Apr 2, 2020
कविता · Reading time: 1 minute

Sls-ns सुरज आया सुरज आया

सुरज आया सुरज आया अन्धकार मिटाने सुरज आया
सुरज के आते ही चिड़िया चु चु कर बाहर आती है
चिड़ियों का झुंड निकलता खुब विचरते धुप लेते
चु चु कर इस नीले आकाश में खुब आनंदीत होते हैं।।
सुरज आया सुरज आया अन्धकार मिटाने सुरज आया
सुरज के आते ही फुलों की कलीया खिल जाती है
फुलों के ऊपर भवरै गुन गुन कर मंडराने लगते हैं
फुल लाल पीले इतराते हैं अपनी सुन्दरता पर
फुल जग को अपने सुगंध से मोहित कर देते हैं।।
सुरज आया सुरज आया अन्धकार मिटाने सुरज आया
नई राह दिखाने नई सोच लेकर आसा से भरा सुरज आया
निरंतर प्रयास करो कभी न रूको यह सन्देश लाया
समय अनुकूल न हो तुम्हारे तभी चमकने का प्रयास करो
आसमान में बादल होने पर भी सुरज निकलना नहीं छोड़ता।।

40 Views
Like
Author
You may also like:
Loading...