Sls-ns शायरी

1 उनकी मोहब्बत में ज़माना छोड़ा हमने
उन्होंने छोड़ा जमाने के लिए हमें
हमने जब पुछा उनसे क्या कसुर था हमारा
उन्होंने हस कर कहा हमसे
जो इस ज़माने का नहीं वह हमारा कैसे होगा ।।
2 मोहब्बत वह हमसे किए
इनजाम भी वही लगाते हैं हमपर
दिल चुरा लिया आपने हमारा
हमने कहा ‌‌‌उनसे हमने नहीं
चुराया दिल आपका
रूठ कर बैठ गये हमसे वह
कहते हैं मोहब्बत नहीं करते आप हमसे।।

17 Views
You may also like: