एक शेर

ज़माने भर की मुश्किल हैं मगर कब दिल समझता है
ये खुद को प्यार के अब भी बहुत काबिल समझता है

सुरेन्द्र श्रीवास्तव

12 Views
You may also like: