कुण्डलिया

कुण्डलिया

अति हर्षित होकर चले , सब बारिश में स्कूल , टीचर बच्चे कह रहे , मौसम है प्रतिकूल , मौसम है प्रतिकूल , सभी वाहन अब गायब, बिन बस ... Read more

चाहत जिनकी

चाहत जिनकी है रही , लेना मेरी जान । उनकी बस्ती में लिया , हमने आज मकान ।। हमने आज मकान, नाम बस कर ही डाला । और रहे चुपचाप ... Read more

पीड़ा जब जब है बढ़ी

पीड़ा जब जब हैं बढ़ी,किया यही उपचार। सूरत उनकी देख ली,जिनसे करते प्यार ।। जिनसे करते प्यार , लोग वो होते बूटी । अपने आते का... Read more

भले बुरे की सीख

मिलती है परिवार से,भले बुरे की सीख । आदर्शों में जो पला , बना सदा तारीख़ ।। बना सदा तारीख़ , ज़मानें गुण हैं गाते ... Read more

थम जाती जब सांस

तज देते सब मोह को,थम जाती जब सांस । तीख़ा देते घाव वो , जो हों दिल के पास ।। जो हों दिल के पास , लोग वो बड़ा सताते । ना जान... Read more

ऊंची तेरी शान !

ऊंची तेरी शान है , ऊंचा तेरा मान । सबके विष को पी लिया,तुमने अपना जान ।। तुमने अपना जान , ग़ैर को गले लगाया । ... Read more

कुंडलिया छंद

कुंडलिया छंद बनकर मत रहना कभी,कोई सूखी डाल। जीवन में नमनीयता,करती बड़ा कमाल।। करती बड़ा कमाल ,राय सब यह ही देते। विनयी शांत स्व... Read more

कुंडलिया छंद

कुंडलिया छंद बनकर मत रहना कभी,कोई सूखी डाल। जीवन में नमनीयता,करती बड़ा कमाल।। करती बड़ा कमाल ,राय सब यह ही देते। विनयी शांत स्व... Read more

बजट के दो छक्के --आर के रस्तोगी

बजट आते ही, राहुल जी हुए बडे उदास कहने को बचा नहीं,मुद्दा नहीं कोई पास मुद्दा नहीं पास,बीजेपी को कैसे दे झटका सोचे सभी उपाय,मा... Read more

कुंडलिया

दोहा की दो पंक्तियां, फिर रोला की चार। कुंडलियाँ यह छंद है, थोड़ा करो विचार।। थोड़ा करो विचार, चरण अंतिम दोहा का। पुनः चरण बन जाय, ... Read more

कुंडलिया

दोहा की दो पंक्तियां, फिर रोला की चार। कुंडलियाँ यह छंद है, थोड़ा करो विचार।। थोड़ा करो विचार, चरण अंतिम दोहा का। पुनः चरण बन जाय, ... Read more

कुंडलिया छंद

कुंडलिया छंद- लगते हैं अब तक हरे, जाति- धर्म के घाव। नमक छिड़कने आ गए,फिर से आम चुनाव। फिर से आम चुनाव , करेंगे पैदा ... Read more

शीत लहर चल रही --आर के रस्तोगी

शीत लहर चल रही,दूजी हो रही है बरसात दिन तो कट जाता है,कटती नहीं अब रात कटती नहीं अब रात,पिया की याद सताये ऐसे ठंडी रात में, मन ... Read more

# पढ़ाई: अति आवश्यक

पढ़ाई में दम बहुत है, सदा राखिए याद। सब क्षेत्र में जीत, होगी कहीं न तुमको मात। होगी कहीं न तुमको मात,बिठा मन अपने। होंगे तेरे पू... Read more

कुंडलिया छंद

कुंडलियां छंद- होता है जब नित्यप्रति ,अपनों से संपर्क। तभी चढ़े आकाश में ,संबंधों का अर्क। संबंधों का अर्क , सदा खुशहाल... Read more

हिंदी को अपनाइए,

हिन्दी को अपनाइए, जनता की यह मांग । यही राष्ट्र भाषा बने,नही अड़ायें टांग । नही अड़ायें टांग, देश हित में यह भाषा, । बचे मान सम... Read more

कुंडलिया छंद (युवा दिवस पर)

कुंडलिया छंद- तन पर शोभित था सदा,जिनके भगवा रंग। उनकी वाणी सुन सभी ,हो जाते थे दंग। हो जाते थे दंग , देख कर धर्म पताका... Read more

बेघर हैं श्री राम अब , जनता मांगें न्याय

बेघर हैं श्री राम अब , जनता मांगें न्याय । जन नायक के नाम पर , कैसा है अन्याय? कैसा है अन्याय ?आज वादी यह सोचें। प्रतिवादी हि... Read more

चोर चोर मौसरे भाई --आर के रस्तोगी

बुआ बबुआ बन्धन की,गाँठ खुल न जाये यू पी में कांग्रेस से,वे हाथ मिला न पाये वे हाथ मिला न पाये,अकेले चुनाव लड़ेंगे हार जायेंगे च... Read more

बी जे पी की खिचड़ी --आर के रस्तोगी

दाल भात मांग कर,खिचड़ी लो तुम बनाय वोट माँगने का यह है,सबसे सरल उपाय सबसे सरल उपाय,अब खिचड़ी बना डालो मिले न दाल भात,तो वोटरों से... Read more

बी जे पी की खिचड़ी ---आर के रस्तोगी

दाल भात मांग कर,खिचड़ी लो तुम बनाय वोट माँगने का यह है,सबसे सरल उपाय सबसे सरल उपाय,अब खिचड़ी बना डालो मिले न दाल भात,तो वोटरों से... Read more

कुंडलिया छंद

भिक्षा दर- दर माँगते ,नाम रखा है भूप। प्यारे सुन्दर लाल जी,दिखते बड़े कुरूप। दिखते बड़े कुरूप,लगाते फेयर लवली। पर देखो दुर्भाग्य... Read more

सकारात्मक सोच

बी पॉज़िटिव सकारात्मक सोच हो, रचनात्मक हों काम। और आत्मविश्वास रख, सुन्दर स्वच्छ मुकाम।। सुन्दर स्वच्छ मुकाम, इंद्रियां काबू रखिये... Read more

रस्तोगी की आधुनिक कुंडलियाँ --आर के रस्तोगी

हलधर बने कवि,खेती अब कौन करेगा जब न होगी खेती,देश भूखा ही मरेगा देश भूखा ही मरेगा,अकाल पड जायेगा बंगाल के अकाल की हमे याद दिलाय... Read more

कुंडलिया-कैसे जीवन हो ख़ुशहाल

सदा कार्य की दाद दो,जलन करो ना भूल। फूलों बदले फूल हैं,शूलों बदले शूल।। शूलों बदले शूल, रखो याद ये हमेशा। जीवन हो ख़ुशहाल, रहे न... Read more

प्रथम शिक्षिका सावित्रीबाई फुले

भारत की प्रथम महिला शिक्षिका सावित्रीबाई फुले जी के जन्मदिवस पर सादर नमन फुले सावित्री ज्योतिबा, को कर लें हम याद, प्रथम शिक्षिक... Read more

कुंडलिया छंद

कुंडलिया छंद आया मौसम शीत का, ठिठुर रहे हैं गात। उछल- कूद बच्चे करें ,दें ठंड़क को मात। दें ठंडक को मात ,सभी को ये समझा... Read more

कुंडलिया छंद

कुंडलिया छंद- खोया - सा मन बावरा, तके बैठकर राह। सूना- सूना जग लगे ,मिले न दुख की थाह। मिले न दुख की थाह,पिया की याद सताती। ब... Read more

नया साल

दिसंबर भी अब विदा ले रहा मोहन आपसे माफी चाह रहा कभी गलती से भी या भूल कर दिल दुखाया हो भूल जाओ अब नया साल आ रहा ए खुदा उन... Read more

नव

भंवरे तितलियाँ खूब करते रहे मस्तियां नव वर्ष की कुछ ऐसी रहे आकृतियाँ सबकी जिदंगी मे आऐ खुशियो का झोंका नव वर्ष पर मिले अमूल्य ... Read more

स्वागतम् २०१९

🌹🌻 "आंग्ल नववर्ष २०१९ मंगलमय हो" 🌻🌹 🌴🌹🌻🌺🌼🌹🌻🌺🌼🌴 पूजित पावन प्रेममय, बहे सरस रसधार! यथायोग्य अग्रज अनुज, नमन करें स्वीकार!! नमन... Read more

नव वर्ष 2019 का स्वागत

स्वागत है नववर्ष का, दो हजार उन्नीस। खुशियों से मन हो भरा, रहे न कोई टीस।। रहे न कोई टीस, न हो आपस में शंका। भारत का उत्कर्ष, विश... Read more

बैठे-बैठे

बैठे - बैठे सोच रहे पर्वत पे हनुमान जाति मेरी ढूंढ रहे कलयुग के इंसान कलयुग के इंसान की फितरत है बेमानी जिससे उनका हित सधे कहते व... Read more

दो कुण्डलिया जीवन पर

1 जीवन के हर मोड़ पर, बाधाओं के गॉव हँस कर इनको पार कर, रोक नहीं तू पाँव रोक नहीं तू पाँव, परीक्षा है ये तेरी कर लेगा यदि पास... Read more

करते सब मनुहार हैं , वोट बैंक हित यार ,

करते सब मनुहार हैं , वोट बैंक हित यार, सारी जनता त्रस्त है , प्रजातंत्र बेकार । प्रजातंत्र बेकार , करें जनता से मस्ती , राजन... Read more

गुट बंदी के भेद में , घिरे वीर हनुमान

गुटबन्दी के भेद में , घिरे वीर हनुमान , नेता जी अब कर रहे , वर्गीकृत भगवान वर्गीकृत भगवान , खेल तो नेता खेलें , घातक हों परिणा... Read more

भाग दौड मे

भाग दौड मे भुले सबको ही अपनी भी कोई खबर नही मिल जाए राहत जिंदगी को कुछ पल वक्त रूके तो सही छोटी सी ये जिदंगी देखो जो क... Read more

मै फिर कभी

मै फिर कभी तेरी नगरी मे अगर आया देख तुम जरा सा मुझको मुसकुरा देना तुम धार जो बहती रहे मै शांत किनारा हूँ है वक्त पे निर्भर जु... Read more

निर्लज

खेलत खावत मौज से, पूत बढाये केश, काहें तुमको डर लगे, पूछे सारा देश। पूछे सारा देश, बोल जरा कैसी बिपति, आज अचानक सुर बदले बाराह सु... Read more

कुंडली

अभिमन्यु है बना दिया , बालक था नादान । उस कुल को भाया नहीं, था जिस कुल की शान।। था जिस कुल की शान , उसी ने मुझे मिटाया ।... Read more

कुंडली

नागों ने है कर लिया, निर्णय मिलकर आज। छुपकर जो भी काट ले,उस पर होगा नाज़।। उस पर होगा नाज़, वही बस नेता होगा । कुलषित करे स... Read more

चोरी से जब नान वेज , ,

चोरी से जब नानवेज , खाने को मिल जाय। लाख बहाना कर भले , झूठ जाय पकड़ाय । झूठ जाय पकड़ाय , व्यर्थ चोरी की बोटी , फूटे मित्र नसीब म... Read more

साली बन कर हुस्न ने

साली बन कर हुस्न ने , चूना दिया लगाय। जीजाजी को इश्क ने, भूखा दिया सुलाय । भूखा दिया सुलाय , रात भर नींद न आयी , चढ़ा इश्क का ... Read more

नजरो से तेरी

नजरो से तेरी हम पर नशा हो गया प्यार जिससे हुआ बेवफा हो गया दिल का रोग ऐसा कया हो गया जिसको भी लगा बावरा हो गया वक्त भी हम... Read more

उची उडान

उंची उड़ान आसमान मे सम्भल के भरीए ठिकाना नही रूकने का ये ख्याल रखिए आसमा मे जो जितना ज्यादा ऊंचा उडता है उतना ज्यादा खुला आसम... Read more

कुण्डलिया

प्रदूषण के दौर में रखना अपना ख्याल, न रखा ध्यान शरीर का होगा गंदा हाल। होगा गंदा हाल दवा लेनी पडे रोज, स्वस्थ न होंगे तो फिर उड न... Read more

कुण्डलिया

पर्यावरण बचाय लो हुआ हर तरफ शोर चिंता में तो हैं सभी ध्यान नहीं इस ओर ध्यान नहीं इस ओर बातें करते सब बडी हम ही बचायेंगे न कि वो ज... Read more

कुंडली

झूठ दौड़ती जा रही , सच ने साधा मौन । तुम अगर अब नहीं लड़े, कहो लड़ेगा कौन?। कहो लड़ेगा कौन , कौन बदले तकदीरें । हो गई ... Read more

प्रदूषण

रोको ज्यादा बढ़ रहा , प्रदूषण का जाल । ख्याल न किया अगर अभी,कर देगा बेहाल ।। कर देगा बेहाल , हवा को भी तरसोगे । देख ... Read more

कुंडली

झूठ दौड़ती जा रही , सच ने साधा मौन । तुम अगर अब नहीं लड़े, कहो लड़ेगा कौन?। कहो लड़ेगा कौन , कौन बदले तकदीरें । हो गई ... Read more
Sahityapedia Publishing