कुण्डलिया

कुण्डलिया- बिक जाते बिन मोल

कुण्डलिया- बिक जाते बिन मोल ■■■■■■■■■■■■■■■■ कविता पढ़कर साथियों, हम जाते हैं हार। लेकिन आयोजक नहीं, देते पैसे चार। देते पैसे चार... Read more

कुण्डलिया

किसान की जय बोलकर बहलाते हर बार, कुसूर हमरा क्या लगा समझाओ सरकार। समझाओ सरकार मूरख ही है बनाया, दिया भरोसा हमें माल है खूब उडाया... Read more

कुण्डलिया

सैल्फी सब हैं ले रहे सैल्फी का है दौर, तरह तरह के पोज से खींचे अपनी ओर। खींचे अपनी ओर कर देत सबको घायल, आया अच्छा पोज हो जात हैं ... Read more

कुंडलियां

कुंडलियां सूटकेश नोटों भरे सूटकेश नोटों भरे, ले ले मेरे वीर| देके अपना समरथन, ... Read more

देखा ये साकार !!

तुमको पाकर है मिली, मुझको ख़ुशी अपार ! होती है क्या जिंदगी, देखा ये साकार !! देखा ये साकार, अवर्णित रूप तुम्हारा। मनमोहक मुस्कान... Read more

बेटे का अवतरण दिवस ...बधाई संदेश

देता हूँ शुभकामना, बेटे बारंबार। जन्मदिवस पे आपको, खुशियाँ मिले अपार।। खुशियाँ मिले अपार, जगत में नाम कमाओ। स... Read more

कुंडलिया छंद

शहरों की बस चमक में, भुला दिये हैं गाँव। लेकिन शहरों में कहाँ, पीपल की वह छाँव। पीपल की वह छाँव, दे सदा शीतल छाया। हर्ष... Read more

बेटा लन्दन नौकरी

बेटा लन्दन नौकरी, बहू जॉब जापान। बेटी सेंट लुईस में, कितनी सुन्दर शान।। कितनी सुन्दर शान, टोरंटो बसे जमाई। नाती बर्लिन शिफ्ट, शिक... Read more

जल स्थल वन जानवर

जल, स्थल, वन, जानवर, रहे सुरक्षित वायु। तन-मन सुन्दर स्वच्छ हो, बढ़े स्वास्थ्य तब आयु।। बढ़े स्वास्थ्य तब आयु, विश्व में खुशी शान्ति... Read more

प्रेम रंग (कुंडलिया)

प्रेम- रंग ********************************** प्याला पीकर प्रेम का, कृष्णा, हुई निहाल। सुधबुध तन है खो रहा, देख मोहन... Read more

कुंडलिया छंद

नेता से नाता नहीं, नेता करे अनेत। देख दशा अब देश की, जाओ सब हीं चेत।। जाओ सब ही चेत, नेत से नाता जोड़ो। करे नही... Read more

कुंडलिया छंद

सादर नमन ......👇👇 न्यायपालिका ने किया, सुंदर सा उदघोष। हरि जीते सँग में खुदा, हुआ परम संतोष।। हुआ परम संतोष, फैसला स... Read more

कुंडलिया छंद

बरसे नयना याद में, पिया गये परदेश। निर्मोही आया नही, ना भेजत संदेश।। ना भेजत संदेश, कहूँ मैं किससे दुखड़ा... Read more

कुंडलियाँ : मानव सुनो पुकार

कुंडलियाँ मानव सुनो पुकार अब, भु को रखना साफ। वरना कभी सृष्टि हमे, नही करेगा माफ।। नही ... Read more

श्रेष्ठ सुन्दर चिन्तन मन

वॉट्सएप्प हो या फ़ेसबुक, या हो टेलीग्राम। धरती या आकाश हो, स्वच्छ सभी हो धाम।। स्वच्छ सभी हों धाम, श्रेष्ठ सुन्दर मन चिन्तन। आपस म... Read more

कुंडलियाँ -- प्रेम सदा बरसाय

कुंडलियाँ --- प्रेम सदा बरसाय कहते ज्ञानी संत हैं , जो मन मे अपनाय। एकसूत्र जो बाँधकर, प्रेम... Read more

एक साल में

एक साल में कट गए, देख हजारों साल।१,२ बेजुबान को साल मत, साल करे बेहाल।।३,४ साल करे बेहाल, साल मछली भी होती।५ बिगड़े पेरुवा साल, खा... Read more

खेल-खेल में

खेल-खेल मे कीजिए, तन-मन से सब काम। हँसी-खुशी से जीतिए, जीवन का संग्राम।। जीवन का संग्राम, कभी मत हार मानिये। कट्टरता को छोड़, प्रे... Read more

जलाओ सब मिल दीपक

कुंडलियाँ दीपक जलता प्रेम की, सब घर आँगन द्वार। मिल-जुल कर रहना सभी, खुशियाँ मिले... Read more

मानव मन को पीर

कुंडलियाँ - मानव मन को पीर ~~~~~~~~~~~~~~~~~~~ धारण करना धैर्य को, मन नही होय अधीर। विचलित होने से मिले, मा... Read more

कुंडलियाँ

कुंडलियाँ ~~~~~~~~~~ जगराता माँ की करूँ जाकर उनके द्वार। गाउँ उनकी आरती, हो जग का उद्धा... Read more

कुंडलियाँ

कुंडलियाँ ~~~~~~~~~~~~ साधक थे विज्ञान के, गढ़कर ज्ञान कलाम। दिया मिसाइल देश को, तब है ... Read more

दशरथ माझी

दशरथ माझी हौसला, दशरथ माझी चाह। जो पहाड़ को साध कर, बना सके भी राह।। बना सके भी राह, भले वह चले अकेला । जहाँ चाह तह राह, साथ लग जा... Read more

किसान

देखो जमीन बिक गई, गिरवी रखे मकान । फसल देख किसान हुए, कितने आज परेशान ।। कितने आज परेशान, अपना भाग्य कोस रहे । मौसम जाता रूठ, कैस... Read more

खाता

खाता रहता बैंक में, खाता घर मे जाय। खाता बी-वन में रहे , खाता नही अघाय।। खाता नहीं अघाय, है खाता चक्कर भारी। खाता है ई-मेल, व खा... Read more

कुंडलियाँ

कुंडलियाँ ************ जग में कबीर पूछता, भीड़ कहाँ से होय। ऐसी रेलम पेल है, जन-जन नित ह... Read more

कुंडलियाँ

कुंडलियाँ ************ जिज्ञासा बेटी तुम्हे, खुशियाँ मिले हजार। मात-पिता की लाडली, न... Read more

कुंडलियाँ

कुंडलियाँ ●●●●●●●● खेती पाती जो करे, होता वही किसान। धरती की सेवा करे, धरती का भगवान।। धरती का भगव... Read more

अग्रसेन महाराज।

द्वापर युग में ही हुये, अग्रसेन अवतार हमको अग्र समाज का ,दिया नया संसार दिया नया संसार, अठारह गोत्र बनाये इक रुपया इक ईंट, निय... Read more

कुण्डलिया

लिव इन का संबंध ये करता बंटाधार, बिन शादी बिन रीत के रहते दोनों यार। रहते दोनों यार कभी जब बात बिगडती, चलते घूसे लात न आगे गाडी ... Read more

दशहरा

1 अब कलयुग की जीत है , रामराज्य की हार । राम नहीं मिलते यहाँ, रावण की भरमार ।। रावण की भरमार, लोभ ही रहता मन में। हो अधर्म की जी... Read more

सरदार भगत सिंह

जन जन में जिसने भरा , देश भक्ति का राग । वही भगत ही बुझ गया, दिल में जला चराग।। दिल में जला चराग, सही पथ दिखलाया था इंकलाब का राग... Read more

बेटी

प्यारी प्यारी बेटियाँ, हम सबका हैं गर्व इनसे ही संसार हैं, इनसे ही सब पर्व इनसे ही सब पर्व, लगें रंगोली जैसी घर रहता गुंजार,च... Read more

गांधी-शास्त्री

1 गाँधी-शास्त्री *********** मोहन गाँधी शास्त्री, दोनों नाम महान उच्च सोच सँग सादगी , इनकी थी पहचान इनकी थी पहचान, सत्य के अन... Read more

मोदी जी

1 दुश्मन भी डर कर रहें, ऊँची भरें दहाड़ कहीं शांत बहती नदी, मोदी कहीं पहाड़ मोदी कहीं पहाड़, नहीं टस से मस होते रहता इन्हें खया... Read more

हड़ताल

आती है हड़ताल से , बस मुश्किल में जान। तोड़ फोड़ से मत करो, अपना ही नुकसान। अपना ही नुकसान, समझदारी दिखलाओ। रखकर अपना पक्ष , बात ... Read more

बनो हिंदी के क्रेज़ी

अंग्रेजी से ही करें,क्यों हम सब परहेज़ हिंदी नंबर वन रहे,दौड़ें इतना तेज़ दौड़ें इतना तेज़, खूब इसको अपनायें अपने सारे काम, बोल हिंदी... Read more

संतान

सबकी होती कामना, सुखी रहे संतान । खूब नाम रोशन करें, जग में हो पहचान ।। जग में हो पहचान, सुत आज्ञाकारी बनें । छोड़े न कभी साथ, पूर... Read more

झाड़-झाड़ बैरी

झाड़-झाड़ बैरी झाड़-झाड़ बैरी हुआ, क्या कर सके इंसान| ऐसे-ऐसे चल रहा, जैसा उसको ज्ञान|| जैसा उसको ज्ञा... Read more

गणेश चतुर्थी वंदना

करते हैं संसार के, पूरे सारे काज विघ्न हरण मंगल करन,गजानन महाराज गजानन महाराज, शरण जो इनकी जाता विद्या वैभव ज्ञान, बिना माँगे ... Read more

हलधर

हलधर करते मेहनत, बहे पसीना रोज । नित साहूकार ठगते, खूब मनाए मौज ।। खूब मनाए मौज, दाम सही न कभी मिले। खुशियाँ मनती खूब, जब हो भरप... Read more

श्री कृष्ण

मोर मुकुट ले बाँसुरी, खेलन चले गोपाल । निरखि छवि भगवान की, चकित भये सब ग्वाल ।। चकित भये सब ग्वाल, संग संग गौ हांकते । सुनने मुरल... Read more

टेंशन की दवा --आर के रस्तोगी

इसको बोलो हैलो,उसको बोलो तुम हाय | हर टेंशन की दवा है,तुलसी वाली चाय || तुलसी वाली चाय,सब साथ पिया करो | रोग कोई न होगा,लम्बी उम्... Read more

जिंदगी

ढ़लती जाती जिन्दगी, करे उम्र की जिक्र। उलझन अब बढने लगीं, मुखरे पर है फिक्र।। मुखरे पर है फिक्र, सभी साथी अब छूटे। पकड़ लिये ह... Read more

बहन प्रेम

बहन प्रेम का रूप है,होती घर की शान। दुख भाई का बाँटती,रखती सबका मान।। रखती सबका मान,खुशी से घर भर देती। फैला जग में तमस, उजाला व... Read more

हुआ हिमालय क्रोध में

हुआ हिमालय क्रोध में हुआ हिमालय क्रोध में, आंखें उसकी लाल| हुआ वनों का दूहना, मानव को न ख... Read more

जीवन

जीवन जीने का तभी, मन में उठा सवाल। जब आईने में नजर, आया उजला बाल।। आया उजला बाल, नहीं पहले देखा था। जमा कई थे ख्वाब, उदासी की ... Read more

अनुच्छेद दूसरा जान

अनुच्छेद दूसरा जान अनुच्छेद दूसरा जान, जो है बड़ा विशेष| इसी के तहत सिक्किम का, संघ में ह... Read more

कुण्डलिया छंद

हे! त्रिपुरारी आपकी ,महिमा अपरंपार l भक्तों की हर आपदा,दूर करें हर बार l दूर करें हर बार, सभी के मन की पीड़ा l ब... Read more

धारा ......370

धारा .....370 ************** तीन सौ सत्तर हट गई, हंसा खूब कश्मीर। सारी जनता खुश हुई, मोहन और शब्बीर।। मो... Read more