कहानी

बेटी ने सिखाया बचत का सफर

लघुकथा दिनांक 22/4/19 " संध्या की विदाई हो गयी थी , आँखो से आंसू रूक नहीं रहे थे । घर में सन्नाटा हो गया था " , नहीं तो :... Read more

मीरा....

सात वर्षीय मीरा की आँखों मे चमक और चेहरे पर खुशी देखकर मन जितना प्रसन्न था उससे कहीं ज्यादा उसके कोमल हृदय मे प्रेम और मानवता देख मै... Read more

आजादी और हम

इस आधुनिक युग में हम आज इतना आगे निकल गए हैं, जिसकी सीमा का हमें पूर्णता ज्ञान नहीं रह गया है हम और आगे-और आगे, आज,बढ़ने की तरफ विचा... Read more

माँ द्वारा लगाया पेड़

65 वर्ष का रामदीन, गर्मी के मौसम में थककर छाया देखकर खेत किनारे पेड़ के नीचे लेट जाता है । सोते सोते अपने बचपन मे चला जाता है, जब उस... Read more

वास्तविकता क्यों नहीं दिखाते ? #100 शब्दों की कहानी#

मैं ऑफिस में विद्यालयों से प्राप्त शिकायतों के संबंध में जांचोपरांत उच्च-अधिकारी द्वारा दिये गए निर्देशानुसार मुख्यालय को भेजने हेत... Read more

सुकूनभरी चाय #100 शब्दों की कहानी#

मेरे पिताजी घर पर गिरने के कारण पैर में फ्रेक्चर होकर हड्डी ओवरलेप हो गयी, डॉक्टर ने तुरंत ही सर्जरी की सलाह दी । इससे पहले कि हम ब... Read more

करप्शन.....

अंजान साहब सुबह का अखबार पढ़ते हुए कहते हैं ओह हो आजकल देश मे भ्रष्टाचार बहुत बढ़ गया है जँहा देखो वहीं झूठ और बेईमानी नजर आती है.... Read more

खुशियों के लिए अच्छी नई शुरूआत # 100 शब्दों की कहानी#

गुड़ीपड़वा के दिन मां ने कहा हम कोई भी शुभ काम करने से पहले पूजा-पाठ करके ईश्वर से उस काम के सफल होने की प्रार्थना करते हैं. तुम्हें... Read more

खुशियों की नयी शुरूआत का आगाज़ #100 शब्दों की कहानी#

प्रभा के चले जाने से अशोक अकेले हो गए , उनकी नौकरी दूसरी जगह थी । दोनों बेटों की शादी रचा दी थी, बस चिंता थी, बेटी रचना की शादी क... Read more

एक चिन्ता पर्यावरण की

सोहन रेल से अपने पापा के साथ लखनऊ जा रहा था , रात हो गयी थी सब लोग सो गये थे लेकिन सोहन खिड़की के पास बैठा बाहर देख रहा था । चाँद उस... Read more

आत्म-विश्वास, आत्म-सम्मान व आत्म-अनुशासन से सब कुछ हासिल # हौसले की उड़ान#

जी हां पाठकों मैं आज आपको ऐसी कहानी से वाकिफ करा रही हूं जो आपकेे हौसले की उडान को भी और बुलंद कर देगी । कहानी सच्‍ची घटना पर आधारि‍... Read more

मां की दी हुई सीख #100 शब्दों की कहानी#

हम जब छोटे थे, तब ब्लॉक में सभी पड़ोसी एक-परिवार जैसे ही रहते थे । पड़ोस में एक आंटी अकेली रहती, पढ़ाती वे सरकारी स्कूल में । बे... Read more

सावधान रहना आवश्‍यक #100 शब्‍दों की कहानी #

मुुुझे कार्यालय की तरफ से प्र‍शिक्षण हेतु मेरी सहेली सुषमा के साथ चेन्‍नई जाना पडा । हम लोग पहली बार ही जा रहे थे, इसलिये इतना अनु... Read more

बिना दुल्हन के विदाई

सैलाव की तरह लोग उसकी तरफ बढ़ रहे थे। ऐसा लग रहा था सुनामी आ गयी हो शौरगुल हो रहा था । जैसे जैसे आवाजें बढ़ रही थी, उत्सुकता से... Read more

कुंभ के मेले में

मेरा सत्य यात्रा संस्मरण बात लगभग आज से बाईस-तेईस वर्ष पूर्व की है। मेरा मायका उज्जैन (मध्य प्रदेश) में होने के कारण मैं ... Read more

वह टेलिफ़ोन की घंटी

सत्य घटना (स्वयं मेरे साथ घटित सत्य वृत्तांत) कहते हैं कि परलोक सिधार कर भी अपने प्रियजनों की आत्मा हमें कभी छोड़ कर नहीं जात... Read more

लेखक की आत्महत्या

दिनांक 29/3/19 उसने नया नया लिखना शुरू किया था । बहुत उत्साहित थी वो । सम्पादक के रूप में पत्रिका के लिए रचनाएँ अधिक आने प... Read more

दोस्ती है अनमोल. #100 शब्दों की कहानी#

मोहन ने उच्च- स्तरीय-अध्ययन हेतु विश्वविद्यालय में प्रवेश लिया । गांव से मां भी आई । पहले ही दिन विश्वविद्यालय में उसके साथ पुलिस-... Read more

भाषा ही अनमोल #100 शब्दों की कहानी#

मातृभाषा संस्कृति की संवाहक है, जिसे ध्वनि ऊर्जा के माध्यम से शब्द रूप में ग्रहण किया गया, शब्द ब्रह्म, मनुष्यता को उच्चतम विकास तक ... Read more

अचरज-अनमोल-उपहार #100 शब्दों की कहानी#

दिपावली का त्यौहार हर साल इंदौर में मनाया जाता, पूजनीय दादी, माता-पिता, तीनों चाचा-चाची, इकलौती अविवाहित बुआ, हम आठ बहनों में एक अ... Read more

खुशियों की सौगात #100 शब्दों की कहानी#

हमारी सगाई के बाद जैसे-जैसे शादी का समय निकट आ रहा था, वैसे-वैसे पिया-प्रेम के गहरे रंग की सतरंगी छटा अनोखे अंदाज में रंगभरी फुहारो... Read more

जीवन के रंग #100 शब्दों की कहानी#

रंगबिरंगा त्यौहार मनाने की उत्सुकता सबसे ज्यादा छोटे बच्चों को रहती है । रंगों से सराबोर माहोल में छोटी सी पूजा को भी रंगभरी पिचकारी... Read more

नाम रोशन करेगी बेटी

रेखा ने जैसे ही खबर सुनाई,मानो आसमान फट गया । और घर में सुनामी कहर बरपाने आ रही हो । सब मौन खड़े ये जानने को उत्सुक है कि पता नहीं ... Read more

सफलता का राज

विजय होस्टल में रहता था उसकी 12 वीं की परीक्षा जैसे जैसे पास आती जा रहीं थी उसकी घबराहट और परेशानी बढ़ती जा रही थी । वह मेहनत ... Read more

सपनों में जीवित हो दादी #100 शब्दों की कहानी#

"दादी भले ही, तुम इस दुनिया में नहीं हो", लेकिन कैसे अपने जीवनकाल में हर कदम पर संघर्ष कर, पांचों बच्चों की परवरिश पूरी हिम्मत के ... Read more

आषाढ़ का मौसम

"आषाढ़ का मौसम" -------------------------- मुझे दिल्ली जाना था।चूँकि मैं एक चित्रकार हूं। वहां कई विशिष्ट चित्रकारों व युवा चित्र... Read more

बुलंद हौसलों को मिले सहायता (महिला दिवस पर विशेष "कहानी")

ज्योति गुमसुम सी कक्षा में बैठी सोच रही, मुझे क्रिकेट में रूचि होते हुए भी पापा खेलने से रोकते हैं , गांव में पढ़ रही तो क्या हुआ? म... Read more

टपकती छत

' क्या हाल है ? दयाल बाबू , रतन गुप्ता ने खैनी मलते हुए पूछा | रतन गुप्ता गांव का सेठ था जो जरूरतमंद लोगों को उधार पर पैसा देता था ... Read more

गाँव आई वीडियो कॉल

गाँव आई वीडियो कॉल पवन एक छोटे से गांव में रहने वाले एक गरीब परिवार का बेटा था उसके पिता रवि ने अपनी पूरी पूंजी को लगा पवन का दाख... Read more

ऐसी सोच को सलाम #100 शब्दों की कहानी#

महिला दक्षिण कोरिया सियोल से अमेरिका सैन फ्रांसिस्को तक 4 माह के बेटे को लेकर पहली बार विमान यात्रा कर रही थी, उसने यात्रियों को ... Read more

अलौकिक शक्ति #100 शब्दों की कहानी#

दक्षिण कोरिया और जापान के बीच 250साल से खाली पड़े दोकोदो द्वीप की वजह से विवाद अभी भी जारी है । दोनों ही देश द्वीप पर अपना हक जताते ... Read more

"ऑस्कर सबसे बड़ा सम्मान" #100 शब्दों की कहानी#

भारतीय गुनीत मोंगा सह निर्माता व ईरानी अमेरिकी फिल्मकार रेका जेहताबची डायरेक्टर द्वारा ग्रामीण भारत में मासिक धर्म के दौरान लड़कियों... Read more

मिशन सक्सेसफुल #100 शब्दों की कहानी#

भांजी अनुषा कुटुम्बले इंदौर की प्रथम-प्रतिभावान खिलाड़ी के रूप में भारतीय जूनियर टेबल-टेनिस टीम में प्रतिनिधित्व हेतु चयन हुआ, ... Read more

सैनिकों की बाजूओं में है दम #100 शब्दों की कहानी#

कार्यालय में पुलवामा हमले के बाद सैनिकों के आगे बढ़ने की चर्चा चल रही, बाहरी देश कदापि ना सोचें, पाकिस्तानी परमाणु हथियार सेना को आग... Read more

लौटा दो बच्चों का बचपन - 60+ को समर्पित

सुबह से दोपहर हो गई थी झुरियों से भरे चेहरे वाला मदारी डमरू बजाते हुए घूम रहा था पर उसको शहर में एक जगह भी बच्चों का हुजूम नहीं द... Read more

अमल में लाना जरूरी #100 शब्दों की कहानी#

कार्यालय में हिन्दी दिवस पर अधिकारीगण राजभाषा नियमों , राजभाषा में अधिक कार्य करने हेतु भाषण देकर गए । अगले दिन अखबार में मैंन... Read more

【1】 मन चंगा

एक गाँव में चंदन नाम का व्यक्ति रहता था। वह हट्टा - कट्टा और जवान था। चंदन का स्वभाव सबका भला चाहने वाला एवं परोपकारी था। गाँव के सभ... Read more

सांकेतिक भाषा सीखना जरूरी #100 शब्दों की कहानी#

2 वर्षीय बच्ची मुन्नी सुन न सकने के कारण माता-पिता के साथ सांकेतिक भाषा सीख रही है । वह जैसे-जैसे बड़ी हो रही है, वह कॉलोनी के लोगों... Read more

शायर कोई और...

शायर कोई और (एक अनुभूति) वो तभी आती है, जब मैं पूरी तरह नींद के आगोश में बेखौफ होकर इस दुनिया से दूर कहीं ख्... Read more

जिंदगी में तालमेल

संगीता और संजय शादी की वर्षगांठ पर बेटे और मम्मी के सौ जाने के बाद साथ बैठ कर खाना खा रहे थे। प्रेम भी बहुत था दोनों में लेकिन... Read more

युद्ध

घर में गमगीन माहौल है। सब बेचैन हैं । सबका मन भारी है। "कौन आ रहा है दादी ?" नन्हा रघु बोला। "अरे रघु अपने पापा ।" तुरन्त बहन ... Read more

मन की भाषा #100 शब्दों की कहानी#

"निर्मला स्कूल से रोते हुए आई", उसके शरीर पर सफेद दाग की वजह से बच्चों ने बुरी तरह चिढ़ाया था , उसने मन में सोचा कि मां तो इस दुनिय... Read more

कहानी

*एक बार फिर* मौसम की ठंडी फुहार और क्यारी में खिले पीले फूल आज फिर मन के दरीचों से अतीत की स्मृति ताज़ा करने पर आमादा हो गए हैं। ... Read more

देश का जबाज सैनिक

लघुकथा " रेल अबाध गति से जा रही थी । मै दोस्त की बारात में भोपाल से पुणे जा रहा था। अहमदनगर से कुछ सेना के जवान सवार हुए ... Read more

अनोखा वेलेंटाइन डे #100 शब्दों की कहानी#

आठ वर्ष पूर्व वेलेंटाइन डे के दिन ही बच्चों के विद्यालयों में प्राचार्यों ने नयी-शुरूआत करते-हुए समस्त विद्यार्थियों के पालकों को ... Read more

कहानी

*एक बार फिर* मौसम की ठंडी फुहार और क्यारी में खिले पीले फूल आज फिर मन के दरीचों से अतीत की स्मृति ताज़ा करने पर आमादा हो गए हैं। ... Read more

एक बार फिर

*एक बार फिर* मौसम की ठंडी फुहार और क्यारी में खिले पीले फूल आज फिर मन के दरीचों से अतीत की स्मृति ताज़ा करने पर आमादा हो गए हैं। ... Read more

लेखिका बनने का सपना #१०० शब्दों की कहानी#

सोम्या यूके से डॉक्टरी की पढ़ाई करके सीधे पहुंची, अपनी नेत्रहीन अंजु दीदी के पास । आज पूजनीय माता-पिता के आशीर्वाद-सुमन से मैंने तुम... Read more

चलना ही जिंदगी #१०० शब्दों की कहानी#

बेबी मौसी परिवार सहित बाईक पर किसी विवाह में जा रही थी, अचानक ही ट्रक तेजी से आने से दुर्घटना का शिकार हो गई, उसे व बेटी को चोट ज्... Read more

बाबू जी की मुस्कान

"संध्या ने अपनी पूरी जिन्दगी घर के देखभाल और घर को बनाने में गुजार दी । मैं तो बस आफिस में चपरासी था । इस तनख़्वाह में दो बच्चों... Read more
Sahityapedia Publishing