हाइकु

हाइकु : नैहर

हाइकु : नैहर //दिनेश एल० "जैहिंद" छूटा मायका बचपन की यादें टूटे वायदे // मायका प्रिय महिलाओं के हिय नैहर नेक // पत्न... Read more

हाइकु : मार्ग

हाइकु : मार्ग // दिनेश एल०" जैहिंद" मिला ये रास्ता रख सबसे वास्ता सुंदर राह // प्रेम डगर संसार का अधर अक्षुण्ण जग // ... Read more

हाइकु : प्रतीक्षा

#प्रतीक्षा // दिनेश एल० "जैहिंद" सब्र प्रतीक्षा आवाम की है इक्छा बड़ी अपेक्षा // अभिनंदन वीरों का है वंदन मिट्टी चंदन // ... Read more

हाइकु : माँ सरस्वती

माँ सरस्वती // दिनेश एल० "जैहिंद" हंस वाहिनी तू वीणापाणि हे माँ विद्यादायिनी माता भारती जन कल्याण कर करूँ विनती हे सरस... Read more

मेघ बरसे ,मेरा मन तरसे --- आर के रस्तोगी

मेघ बरसे , मेरा मन तरसे , पिया न आये -१ रात अँधेरी , दामिनी दमकती , खूब डराये -2 सखी झुलाये , मन को हरसाये , वे नहीं ... Read more

स्वागत बरखा

1 बरसा पानी हुई धरती तृप्त है हरियाली 2 घर आंगन फैलती हरियाली स्वागत वर्षा 3 सावन झूले झूमती हरीतिमा मंगल गीत ... Read more

नाते बने प्रेम के

हाइकु विधा 1 नहीं हो नाते स्वार्थ मतलब के रिश्ते हो सच्चे 2 पत्नी से नाता लड़ना झगड़ना है मोहब्बत 3 देश से नाता ... Read more

हाइकु

हाइकु ~~~~~~ शीतल हवा कश्मीर की वादी~~ मुक्त प्रदेश गरजे शेर बौखलाए जी नेता~~ शीतल मन पत्थर बाज हो गई छुटकारा~~ ... Read more

हाइकु

जीवन में पहली बार हाइकु लिख रहा हूं। 1. बारिश आई मौसम है सुहाना बच्चे खेलेंगे। 2. हर तरफ मेंढक की आवाज सुनाई देंगे। ... Read more

हाइकु

हाइकु गीत सांवरियाँ रे! ओ मेरे सांवरियाँ! सांवरियाँ रे! सवारियाँ रे! नैना हैं कजरारे, देखूं भरके। जागी है रात, मि... Read more

हाइकु

“मेंहदी” (हाइकु) (1)मन भावन मेंहदी रचे हाथ पिया का साथ। (2)पीस पत्तियाँ करतल सजाईं खूब रचाईं। (3)मेंहदी लगी जो पिया मन... Read more

हायकु बरसात

हायकु-- बरसात ~~~~~~~~~~ मोर पपीहा ठुमक कर नाचे~~ बरसातों में महक उठी जब बरसे पानी~~ हर्षित मन उड़ी हवाये... Read more

अच्छा नही हठ

1 बच्चों को प्यार उन्हें बिगाड़े हठ समझे सब 2 यह बुढ़ापा है जिद्दी स्वभाव सुनो उनकी 3 हठ हमेशा देती है नुकसान बच... Read more

चिराग

1 जले चिराग तड़पता दरिन्दा रोशन जग 2 अंधेरी रात बुझ गया चिराग भटके लोग 3 बढ़ा आतंक गुम हुए चिराग बेबस मन 4 है देश... Read more

चोर-लुटेरे यह

सुनो श्रीमान! चोर-लुटेरे यह हो सावधान अच्छा है मौका देखकर लगा दो अबकी चौका राह में रोड़े बिछाने को खोलता अपने घोड़े फ... Read more

सांप-नेवला एक साथ

घात पे घात सांप और नेवले हैं एक साथ घात पे घात सांप और नेवला हैं एक साथ चुनावी रेल होती धक्कम धक्का रेलम पेल देखो जो ... Read more

भारत का लोकतंत्र

विधा - हाइकु ये जनतंत्र भारत का गौरव रहे अमर ये लोकतंत्र विश्व उदाहरण है हिन्दुस्तान जनतंत्र है जन मन आकांक्षा... Read more

झूठ न बोले दर्पण

दिनांक 24/6/19 दर्पण विधा - हाइकु हर तरफ परेशान इन्सान देखें दर्पण सुखी मानव आस है बरसात कहे दर्पण न बोले झूठ देख... Read more

जीवन में तपिश

दिनांक 24/6/19 विधा - हाइकु हर तरफ परेशान इन्सान घोर तपिश तपिश अंत बरसे बरसात सुखी जीवन नाराज सूर्य बरसती है आग ... Read more

मेरे सनम

मेरे सनम तुझे मेरी कसम। मुझे तेरी कसम। साथ मेरे तू , रहना सदा। मैं सदा ही, रहूंगा तेरा। हर जन्म हर जन्म हर ... Read more

चाह किनारे की

दिनांक 19/6/19 चलता चल राह ताल तलैया पास किनारा दूर किनारा भटकती है नैया हिम्मत साथी उड़ता पंछी ढूंढता है मुकाम मि... Read more

आग और भट्ठी

दिनांक 15/6/19 हाइकु 1 भट्ठी सी धरा इन्सान परेशान हो बरसात 2 गुस्से की भट्ठी जलता है इन्सान बढा ब्लड प्रेशर ... Read more

पतंगा हारा जीवन

दिनांक 13/6/19 उड़ा पतंगा है प्यार में पागल मिसाल बना आग से लड़ा जूनून प्यार जीत मरा पतंगा जब पतंगा कूदा लपटों पर... Read more

नीम है लाभकारी

विधा - हाइकु कड़वा नीम लाभकारी हमेशा लगाओ वृक्ष उपयोगी है नीम पत्ती औ छाल स्वस्थ हमेशा छाया शीतल आशीर्वाद बुजुर्ग ... Read more

शुद्ध पर्यावरण

दिनांक 5/6/19 विधा हाइकु 1 दे तरू छाया मीठे फल औषधि जीवन खुश 2 गीत चौपाल होली ईद दीवाली वृक्ष आसरा 3 पेड़ ... Read more

आग और रिश्ते

दिनांक 30/5/19 मूर्ख इन्सान मत खेल आग से भस्म अस्तित्व नारी ज्वाला रखो मान उसका सुखी समाज थपेडे आग जलता है इन्सान ... Read more

जिंदगी में हार जीत

दिनांक 23/5/19 हार जीत विधा - हाइकु कठिन रास्ते जिन्दगी है मुश्किल है हार जीत करो संघर्ष हार बदले जीत रखो संतोष ... Read more

चिंता नारी की

दिनांक 22/5/19 विधा - हाइकु जीवन चले रोज़ी रोटी बच्चे नारी की शान न रहे भूखा बाहर परिवार नारी की चिंता खाना ... Read more

चुनाव जीवन में

दिनांक 18/5/19 हाइकु आया चुनाव लोकतंत्र उत्सव हर तरफ सभी चुनाव दे विश्वास , देश को है लोकतंत्र सुखी जीवन शादी... Read more

भूखा पेट

दिनांक 17/6/19 विधा - हाइकु भूखा उदर याचक है इन्सान दुत्कारो मत दुखियारी वो भूखा पिचका पेट रोता बचपन महके खुशी आ... Read more

मैं

मैं मैं सहमी थी खंडित नहीं हुई चलती रही। पग वंदन हृदय पटल स... Read more

हक जीने का

दिनांक 8/5/19 है हक जीना पाठ पढ़े दुनियाँ न हो आतंक बुजुर्ग खुश हक मिले जीने का हो देखभाल है अधिकार हर जीव हो ख... Read more

खेल जिन्दगी का

दिनांक 7/5/19 विधा - हाइकु उम्र है भ्रम घटती है ये उम्र छोटा जीवन जन्म खुशियाँ मौत एक सच्चाई आयु तमाशा जितनी उम... Read more

अनमोल वचन..हाइकु छंद

1- खुद की ख़ुशी औरों का दुख बने छोड़ो वो ख़ुशी 2- प्रीत वो रीत त्याग का लिए भाव मीत की जीत 3- हृदय संग जुड़े जो वही नाता ... Read more

अनमोल वचन..हाइकु छंद

1- खुद की ख़ुशी औरों का दुख बने छोड़ो वो ख़ुशी 2- प्रीत वो रीत त्याग का लिए भाव मीत की जीत 3- हृदय संग जुड़े जो वही नाता ... Read more

नैतिक-मूल्य--हाइकु छंद

1- रूठो न कभी जीवन अति लघु मिलो तो सभी 2- प्रकृति देख सब लुटाती हमें चलें ये रेख 3- बीच राह में छोड़ो न किसी को भी स... Read more

सच्चे अच्छे विचार

हाइकु ..जापानी छंद ------------------------ 1- सोचा बहुत किया कुछ भी नहीं भूल ये बड़ी 2- गप्पे हाँकना सीख लिया तुमने गलत ब... Read more

ग्रीष्म

🌸🌸 तपती धूप अगन बरसती खोजती छाया 🌸🌸 रवि प्रचंड है संतप्त बैशाख तीक्ष्ण रश्मियां 🌸🌸 प्यासी वसुधा शुष्क हैं तरुवर है त्राहि... Read more

पन्ने

हुए गुलाबी सुनहरी धूप से पृष्ठ प्रीत के । चली लेखनी मन पृष्ठभाग का खुला रहस्य। रोज़ निखरे हृदय बही पन्ने शब्द मुखर। ... Read more

बरखा

हाइकू श्यामल घटा दमकत दामिनी घन बरसे। ओ घनप्रिया मेघाच्छादित नभ आयी बरखा। श्रावण मास नाचे सौदामिनी बरसे नैना। ... Read more

दशरथ नन्दन

///१/// सरयू तीर है अयोध्या पावन सुखों का धाम तीन रानियाँ है दशरथ राजा न कोई सुत चिंता बड़ी है ऋषियों की सलाह हुआ है यज्... Read more

कविता

अच्छी कविता संदेश सुनाती है देती है ज्ञान मन हर्षित हो तन लगे नाचने यही कविता सुन वनिता मेरी एक कविता भावों की माला ... Read more

पानी के लिए हाहाकार

जल्दी उठना । जल लेकर आना ।। बर्तन लाना ।। भीड़ है लगी । सब पानी लाएगी ।। भौर भागेगी । हमे खेलना । नही यह झेलना ।। शाला है... Read more

फाल्गुन मास

आज दिवस । कितना सुनहरा ।। है होली पर्व । शुभ संयोग । दिन रात समान ।। मास फाल्गुन । बसन्त छाया । सुर्ख पलाश फूल ।। झूमे प... Read more

मोहब्बत

यह एक शब्द दो दिल की भावनाएं खुशी एक एक करके दो जीवन एक रास्ता एक मंजिल क्रमशः दो जिस्म दो सास दो दिल एक धड़कन ... Read more

"नारी"

(1) प्रेम बसता नारी सम्मान जहां सुख टिकता (2) रस्सी पे चाल पीहर -ससुराल नारी कमाल (3) अभिन्न मित्र मुस्कान और श्रम नारी क... Read more

"शिव"

(1)🌿 शिव विवाह भूत-प्रेत बाराती सवारी नंदी (2)🌿 विरह अग्नि शिव का अलंकार सती की भस्म (3)🌿 राख़ विरक्ति शिव एक तपस्व... Read more

"पवन"

(1) "पवन"घोड़े बैठ के आये मेघ सूखे को देख (2) दिखे ना टिके मौसम की गोद में "पवन" खेले (3) अँगुली सँग बाँसुरी रँगमंच नाचे ... Read more

सिपाही

🌾🌾 रक्षा प्राचीर प्रहरी सीमा पर सुदृढ़ ढाल 🌾🌾 भारत पुत्र मूर्ति पराक्रम की दे प्राणोत्सर्ग 🌾🌾 सिंह गर्जन है भयाक्रांत शत... Read more

"सरहद"

(1) देश को चैन "सरहद" पे जागे रक्षक नैन (2) उड़ते पंछी "सरहदों" के पार सिमटे इंसां (3) दीवाली गोली "सरहद" त्यौहार ... Read more