घनाक्षरी

#खरी खरी

#खरी खरी😀😁 🌴🌹🌻🌹🌻🌹🌻🌹🌻🌴 सिरधा कौ चढ्यौ चाव भगती कौ जग्यौ भाव, बगुला भगति व्रत रखते विधान के! नव दिन अरु रात करि लिये नवरात,... Read more

दूजा पाकिस्तान है।

मनहरण घनाक्षरी **************** पुण्य भूमि भारती की ,ख्याति है वसुंधरा की। जिस पर हुए खूब ,लोग भी महान है। बड़े छोटे लोग ... Read more

2 अक्टूबर ,दो बन्ध

अहिंसा का पुजारी ,सत्य व्रत का धारी। गांधी महामानव , का जन्म दिवस है। वेश जिसका धोती, न माला कोई मोती। साधारण सी लाठी , यही कु... Read more

अम्बे भवानी

कभी धरे कन्या रूप, कभी माता का स्वरूप, बाँटती भवानी मात, सबको ही प्यार है। लाल लाल है चुनर, बिन्दी टीका भाल पर, अस्त्र शस्त्र हा... Read more

हिंदी हिंदुस्तान है

हिंदी भाषा है सरल , पानी जैसी है तरल,और व्याकरण भी तो , इसका आसान है हिंदी ही सजाती मन,हिंदी से ही ये वतन,हिंदी से ही तो हमारी ... Read more

मिटती न खार हैं

बार बार मार खाये, फिर भी न शरमाये, पाक बेशरम बना, बड़ा लतमार है । लड़ता है बेवकूफ, ईर्ष्या में जल रहा, टुकड़ों मे पल रहा, बहे मुँह ल... Read more

घनाक्षरी 【 आरक्षण 】

#आयोजन--#मासिक_प्रशस्ति_पत्र_ #विधा-- घनाक्षरी 🍥🍥🍥🍥🍥🍥🍥🍥🍥🍥🍥🍥🍥🍥 .....आरक्षण.... ===\===... Read more

'स्वाभिमान है हिन्दी'

'स्वाभिमान है हिन्दी' ~~~~~~~~~~~~~~~~~~~ घनाक्षरी-१ * हिन्दी भाषा भारत की, राष्ट्र भाव गौरव की। अभिव्यक्ति मूल मंत्र, सब जा... Read more

व्याधियाँ (घनाक्षरी छंद)

व्याधियाँ (घनाक्षरी छंद) ■■■■■■■■■■■■■■ दवा के बिना तो नहीं बचती फसल अब, हवा में है घुल गया देखिए ज़हर भी। रोज रोज इतनी दवाई हम... Read more

बुढ़ापा {घनाक्षरी}

बुढ़ापा {घनाक्षरी} □■■■□■■■□■■■□ हो के नौजवान तुम हँसते हो वृद्धों पर, तेरी बात तेरी माँ को देखना रुलायेगी। जो सारे संस्कार तु... Read more

घनाक्षरी

"बेटी" -------- पिता की है शान बेटी, माँ का स्वाभिमान बेटी, घर की है आन बेटी, गर्भ न गिराइए। मनोहारी कामना सी, उपकारी भा... Read more

छंद

गुरू की कृपा से-- --------------------- आकर गुणों का हो प्रभाकर सा तप्त किन्तु ऐसे अभिमानी के न कीर्ति गान गायेंगे सरस मनों... Read more

पश्चिमी हवा का असर

पश्चिमी हवा का असर ■■■■■■■■■■■■■■ अर्ध नग्न हो के नृत्य लोग अब करते हैं, जिसे देखते हैं रोज बेटे और बेटियाँ। पश्चिमी हवा को सभी ... Read more

धरती का प्यार

चाहे चाँद सूरज हो,चाहें जीवन मरण, नियमों से बंधा हुआ, ये सारा संसार है मौसम बदलते हैं, रूप नये मिलते हैं ,कभी सावनी है छटा, कभ... Read more

घनाक्षरी- आरामतलबी

घनाक्षरी- आरामतलबी ■■■■■■■■■■■■■■■ एक ही दीया से कभी, सात लोग पढ़ते थे, अब सात जलेंगे तो एक पढ़ पायेगा। झलकर बेना कभी नींद खूब ल... Read more

घनाक्षरी- छाले पड़े पाँव में

घनाक्षरी- छाले पड़े पाँव में ~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~ रोटी की तलाश हेतु जाम में फँसे हैं आज, कभी दिन कटते थे पीपल की छाँव में। गं... Read more

आज की पीढ़ी

मीटिंगों के नाम पर, पीना जाम भर भर, सभ्यता इसे भी नई , पीढ़ी बतला रही खोल आज की किताब, आधुनिकता का पाठ,मधुशाला खुलेआम , सब को पढ़ा र... Read more

रूप घनाक्षरी

1 उमड़ उमड़ कर, गरज गरज कर,बादल ये काले काले , गा रहे विरह गीत कड़क कड़क कर, दामिनी भी करे शोर, लगता बिछड़ गया, इसका भी यहाँ मीत इनक... Read more

कृपाण घनाक्षरी

1 करते गलत काम, जो सुबह और शाम, करने यहाँ वो नाम, करें बड़े बड़े दान धन से बड़ा न बाप ,गरीबी यहाँ है पाप , हैं अमीर यदि आप, होती तभी ... Read more

घनाक्षरी छंद ~ फटेहाल बच्चे

घनाक्षरी छंद ~ फटेहाल बच्चे ★★★★★★★★★★★★★★ स्वयं पे ही सभी रहते हैं वशीभूत अब, कोई भी किसी की नहीं सुनता जहान में। भूख और प्या... Read more

सोच ( विचारधारा)

मानव के कर्म ही उसके विचारों की सर्वश्रेष्‍ठ आख्‍या है । जो चाहे वह मिल जाए तो यह सफलता है लेकिन जो मिले उसे चाहना ही प्रसन्‍न... Read more

मन ( विचार सागर )

मन के हारे हार है मन के जीते जीत अपने मन को खुश रखिए सदैव सफलता हासिल किजीए Read more

विचार मंथन

जो बीत गया, वह अवशेष हो गया, जो आएगा वह शेष है, परंतु जो आज है, अभी है, वही विशेष है Read more

होली स्पेशल घनाक्षरी का प्रयास:-

हो होली में इस बार कुछ ऐसा विशेष हुड़दँग । उड़े प्रेम की गुलाल मला जाए सद्भावना और शान्ति का एकसाथ अनेक रंग ।। हो होली बड़ी ... Read more

संस्कृति प्रवीर संभालें !

समर साध रहा समय है , सुविचारों संस्कारों का , वीरों के बलिदानों पर , निंदित हर विकारों का ; अपनी छाती पर अपनी संस्कृति नहीं लूटने ... Read more

डूबता_आतंकिस्तान

डूबता_आतंकिस्तान _______________ जहां सिसकती बचपन दम तोड़े , व्याभिचार के अड्डों में , जहां बच्चे झोंके जाते हों , आतंक के खड्ड... Read more

रावण दहन

#विधा - मनहरण घनाक्षरी """"""""'""""""""""""""""""""""""""""""""""" "रावण ** दहन" *... Read more

सरस्वती वंदना

🙏🙏🙏🙏 प्रार्थना 🙏🙏🙏🙏 *****†******************†***** वागीश वीणावादिनी, सदबुद्धि प्रदायिनी। चरणों में शरण दे, नमन स्वी... Read more

माँ शारदे की वंदना

🙏🙏🙏🙏 प्रार्थना 🙏🙏🙏🙏 *****†******************†***** वागीश वीणावादिनी, सदबुद्धि प्रदायिनी। चरणों में शरण दे, नमन स्वी... Read more

कुछ ऐसे ही

काले - काले कोट वाले सफेद - सफेद धोती कुर्ता वाले खादी की जैकेट , टोपी वाले कुछ ऐसे ही दिखते हैं राजनीति वाले झूठे - झूठे ... Read more

आहत है देश आज (घनाक्षरी)

आहत है देश आज (घनाक्षरी) ~~~~~~~~~~~~~~~~~ * एक * आहत है देश आज, खोए हैं धरा के लाल। मत बैठो मौन धार, शत्रु को मिटाइए। शा... Read more

डमरू घनाक्षरी

डमरू घनाक्षरी गरज गरज कर बरस चपल घन, तड़प उठत अब सकल जगत मन। पग पग पल पल लगत अगन यह बढ़त चलत अब जलत रहत मन। सन सन सन सन... Read more

जीवन संगिनी (मनहरण घनाक्षरी छंद)

👲👲👲 जीवन^संगिनी 🙍🙍🙍 ^^^^^^^^^*************^^^^^^^^^^ मम जीवन संगिनी, कलत्र अंग अंगनी। खुशियों के संग प्रिय, अंग में विरा... Read more

मनहरण घनाक्षरी

#मनहरण_घणाक्षरी छंद प्रथम प्रयास आसमां में काले घन, उमड़ चले हैं तन दामिनी के संग मिल, नगाड़े बजात हैं। मेघ देख विरहन, व्याकु... Read more

नेताजी सुभाष चन्द्र बोष की जयंती पर....

तुम मुझे खून दो, मैं तुम्हें आजादी दूंगा, जोश भरे ऐसे उदघोष को प्रणाम है। दिल में भवानी और खून में जवानी दिखे, वतनपरस्ती वाले जोश क... Read more

रस ज्ञान (घनाक्षरी)

प्रेमी-प्रेमिका के बीच, योग या वियोग हो तो, वहां श्रृंगार रस की, अनुभूति होती है। हो हँसी-विनोद और, हास-परिहास दिखे, हास्य रस ज... Read more

राष्ट्रीय युवा दिवस

राष्ट्रीय युवा दिवस, बारह जनवरी आज, जागो सब युवा आओ, मनाओ आनंद जी। जन्म हुआ इस दिन, देश के सपूत का जो, जिन्हें जानते हैं सब, श्... Read more

विश्व हिन्दी दिवस की, खुशियाँ मनाइये

1.दस जनवरी आज, हमे हिन्दी पे है नाज, विश्व हिन्दी दिवस की, खुशियाँ मनाइए। 2.हिन्दी बोलें हिन्दी लिखें, हिन्दुस्तानी हिन्दी दिखें... Read more

मनहरण घनाक्षरी

जन्नत ये जिन्दगी है मोहब्बत बंदगी है प्यार में रवानगी है आप जब से मिले। फूल दामन में दिए कांटे ख़ुद झेल लिए बाग़ तूने पै... Read more

जवान औ किसान

जवान औ किसान 💐💐💐💐💐💐💐💐 हिन्द के जवान तुम,वीर हो महान तुम। रक्षण में जान तक,आप ही लुटाते हो।। दुश्मन को मार कर,रीपु का संघार कर। ... Read more

मात्र त्योहारों की औपचारिकता

तयौहार मनाने की रह गई है केवल औपचारिकता,समाप्त हो रही है इंसानों के दिलों से आत्मीयता है इंसान औपचााारिकता निभाते हुए असली नाते म... Read more

रावण दहन

#विधा - मनहरण घनाक्षरी """"""""'""""""""""""""""""""""""""""""""""" "रावण ** दहन" *... Read more

बड़ी ज्ञानी जात

"न हिन्दू बड़ा न ही मुल्ला बड़ी ज्ञानी जात है, धर्म के आडे छिपके करते उत्पात ये"| Read more

चीर के बनाए राह

चीर के बनाये राह, पत्थरों के सीने पे जो। दिल में सदा उनकी, याद पलती रहे।। एक साथ चल पड़े, कारवां के कारवां तो। कितनी भी मुश्किलें... Read more

भूल ये तुम्हारी

कुण्ठा में गुजार दिया, तुमने सफ़र कहीं। भूल ये तुम्हारी कहीं, तुम्हें सालती रहे।। मन की निराशा तेरे, मन में रहे जो कहीं। रासते मे... Read more

सरस्वती वंदना

वीणा वादिनी ओ माता, हंस वाहिनी ओ माता। चार वेद धारिणी मां, ज्ञान का प्रकाश दे।। है घना अंधेरा घेरे, दूर हो गये सबेरे। मुझको उजालो... Read more

सरस्वती वंदना

मात शारदे सुनो जी, दृग खोल देख लो जी। द्वार पे खड़ा हूं मात, तनिक तो ध्यान दे।। ज्ञान चक्षु खोल माता, तम सारे हर माता। मेरी मुश्क... Read more

हिन्दी

बढी खूब साख ताज हिंद का है हिंदी आज, भाषा पर नाज मनमीत होना चाहिए। छाई हर देश मन भाई नर नेक अब, बने देश भाषा ये प्रयास होना चाहिए... Read more

कुप्रभाव

- "मन का छंद मनहरण" दिनांक - 09.09.2018 दिन - रविवार 🌞🌞🌞🌞🌞🌞🌞🌞🌞🌞🌞🌞🌞🌞 छंद -१ जात धर्म भेद भाव, नित्य दे रहे है घाव। इनका बूर... Read more

कृष्ण भजन

१)कृष्णा संग बसे राधा बिन श्याम सब आधा मन बसे रूप सादा ये ही सच्ची प्रीत है। २)श्याम जब से मिले हो कष्ट सारे ही हरे हो बजे म... Read more