गीत

" जीवन के मधुगान हैं " !!

हलधर की बेटी ठहरी मैं , हँसी लगे पहचान है !! हरे भरे खेतों में रमती , वहन करूँ जिम्मेदारी ! हरी चुनरिया माँ धरणी की , उस पर म... Read more

नारी का सम्मान होना चाहिए!!

विषय- नारी के प्रति सामाजिक विषमता विधा- गीत (मुक्तछंद) ------------------------------------- 【मुखड़ा】 कुप्रथा कुरीतियों का ,अं... Read more

" किस्मत में कहाँ छप्पन भोग " !!

आग बरसती बड़ी तपिश है , चमकी से चमके हैं लोग !! खड़े कुपोषण और गरीबी , भाषण से कुछ ना होगा ! स्वास्थ, चिकित्सा , शिक्षा सस्ती , ... Read more

गीत

मुखड़ा ---------- रंग वासंती छिने हैं, ज्वलित मन निर्जन हुआ है। ओढ़कर संत्रास मरुधर,तप्त अब जीवन हुआ है। अंतरा --------- (... Read more

" इच्छाएं सब चेरी " !!

योगा में आसन अनेक हैं , मुद्राएँ बहुतेरी ! साँसें वशीभूत होती हैं , इच्छाऐं सब चेरी !! रोग ग्रसित है जीवन सबका , चिंता बड़ी सत... Read more

आज बहुत रोने का मन है

आज बहुत रोने का मन है ■■■■■■■■■■ भीतर से मैं टूट चुका हूँ, आज बहुत रोने का मन है। दूर कहीं बस्ती से जाकर, जी भर कर सोने का मन ह... Read more

वो गुरू ही तो है -

rekha rani गीत Jun 20, 2019
हम तो जाते भटक, पथ किसी मोड़ पर, राह को खोजकर ,पीठ को ठोंक क़र। जो बढ़ाता गया मंजिलों की तरफ। मंजिलों का पता बस गुरू को ही है। ... Read more

तुम बिन सब अधूरा

मुखड़ा-- तेरी साँसों की सरग़म मेरा मन लुभाती है। तेरी आँखों की चितवन मेरा दिल चुराती है।। नागिन-सी ज़ुल्फ़ें गोरे गालों पर गिराती ह... Read more

" प्यासे पानी चाहें " !!

जम के बरसो कारे बदरा , तुम पर टिकी निगाहें !! प्यासे प्यासे अधर हमारे , धरती भी है प्यासी ! सूखे सूखे खेत पड़े हैं , हरियाली न... Read more

मानसून

मानसून तुम कहाँ छिपे हो, अपनी सूरत दिखलाओ। ताप हरो थोड़ा धरती का, अब रिमझिम जल बरसाओ । देख प्रचंड रूप सूरज का, हर प्राणी ही... Read more

धरती हिंदुस्तान की

धन्य धन्य है धरा हमारी ये भूमि बलिदान की सबसे प्यारी सबसे न्यारी धरती हिंदुस्तान की जहाँ पे जन्मे राम कृष्ण और गाथा है हनुमान... Read more

प्रेम विरह गीत

गुजारे साथ थे जो पल भुला न पायेंगे तड़प तड़प के विरह गीत हम सुनाएंगे ये चाँद तारे भी खामोशी ओढ़ लेते हैं पता भी सिर्फ वो तन्हा... Read more

" प्रजातंत्र की मार बड़ी है " !!

कैसी यह तकरार छिड़ी है , प्रजातन्त्र की मार बड़ी है !! सब अपने , समभाव दिखे ना , व्यापकता का भाव कहाँ है ! सबके अपने स्वार्थ सज... Read more

कायनात

आंखें झिलमिला कर देखूं आती है नजर ।बातें फुसफुसा कर बोलूं सुनती है मगर।। आती है दिखाने मुझको जलवे हजार ।रूठती , मनाती मुझको लगाके... Read more

चलो चले मेरे गाँव चले

चलो चले सब मेरे गाँव चले, तपती धरा पर नंगे पाँव जले, सड़क किनारे लगे दौड़ने, पेड़ो की छाया फिर ढूँढने, सिर पर ढूँढे हम सब पगड़ी,... Read more

" हर पल मेरा ही खयाल है " !!

नयन पिरो रहे अश्रु माल हैं ! कदम कदम पर साथ मिला औ , काँधे पर चढ़ना , इठलाना ! दूर दूर तक रखी निगाहें , पलकों में सब सिमटा आना ... Read more

बढ़ती मन की दूरियाँ, कैसे आयें पास

बढ़ती मन की दूरियाँ, कैसे आयें पास रिश्तों को तो बांधता, है मन का विश्वास बातों को देते रहें, भावों का आधार भावहीन संवाद तो... Read more

***" कान्हा वो कान्हा "***

***कान्हा वो कान्हा *** कान्हा वो कान्हा तेरे दीदार को येअँखियाँ तरसी है । अब तो आके झलक दिखा जा मिलने की तमन्ना में बरसी है। तु... Read more

काश मेरी जिंदगी का यह आखिरी दिन हो-

rekha rani गीत Jun 12, 2019
काश मेरी जिंदगी का आखिरी यह दिन हो। ए मां तेरी बंदगी का आखिरी यह दिन हो। हमको जग में खोजोगी फिर हम ना मिलेंगे। ए मां तेरी ममता क... Read more

पावन हो मनभावन हो -

rekha rani गीत Jun 12, 2019
तुम पावन हो , मनभावन हो ,मेरे भारत देश की माटी - हिन्दू मुस्लिम सिख ईसाई चार फूल हैं बगिया के। खुशबू जुदा-जुदा है किंतु सब श्रंगा... Read more

क्षणिक ख़ुशी-

rekha rani गीत Jun 11, 2019
ऐसा क्या हुआ आज मेरे संग, क्यों आज मैं इतनी खुश हूं। मुझको मिली जीवन की डगर, यूं आज मैं इतनी खुश हूं। कब से मन यह तरस रहा था ए... Read more

हमने उनकी राह तकी

हमने उनकी राह तकी, फिर भी वो आ न सकी, हमने चाहत छुपा रखी, बनाकर उन्हें अपनी सखी, वो खुद न आये द्वार, हम लेकर बैठे हार, क... Read more

बेटियाँ अब देश में कैसे जियें।

बेटियाँ अब देश में कैसे जियें ----------------------------------- खून के आँसू भला कैसे पियें। बेटियाँ अब देश में कैसे जियें।। ... Read more

कैसे लोग चला देते हैं बच्चों पर शमशीर

कैसे लोग चला देते हैं बच्चों पर शमशीर ~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~ सोच सोच कर मन यह मेरा होता रोज अधीर कैसे लोग चला देते हैं बच्चों पर ... Read more

गर्मी

🌞🌞🌞🌞🌞🌞🌞🌞🌞🌞🌞 ऋतु गर्मी की आ गई, लेकर खुशी हज़ार। हम सब बच्चों के लिए, मस्ती की बौछार। गर्मी की छुट्टी पड़ी, हम सब करते मौज। ... Read more

वतन के लाल बढ़ चलो

बढ़ चलो, बढ़ चलो, बढ़ चलो वतन के लाल बढ़ चलो, बढ़ चलो । मुश्किलों से लड़ चलो, लड़ चलो नोजवान बढ़ चलो , बढ़ चलो देश के सूरमा तुम..... Read more

जीवन की परिभाषा

जीवन भर सँग सँग चलती है, आशा और निराशा । सुख.दुख से ही रची गई है, जीवन की परिभाषा ।। सुख की इच्छा मन को प्रतिपल, स्वप्न दिखाती रह... Read more

विष अमृत हो जाता है

मीटर-212-112-222-222-122-222 -------------------------------------------------- एक नाम तुम्हारा जपने से मन में उजाला होता है। व... Read more

***

🌹🌹*" चाहत"* 🌹🌹 तेरी *चाहत* ने साँवरे सब कुछ भुला दिया । काँटों भरी ये जिंदगी में फूल बिछा दिया । उलझा हुआ सा मन मेरा तूने सुलझा द... Read more

गीत .....आओ पेड़ लगाएं भाई

*आज का ...गीत* 🌴🌳🌲🎋 🙏🏻 *आओ पेड़ लगाए भाई*😤🌳🌲🦚🦜🐇🐉🌵🍀☘🌿🌴🌳🌲🎄 आओ पेड़ लगाए भाई जीवन को महकायें भाई कितना दम सा घुटता है... Read more

्विरह गीत

=====++++======++++======++++====== विरह वेदना ************* कुछ देर ... Read more

बेटी से ही संसार

वेदों ने रचना कर डाली । स्वर्ण मयी आभा सी वो ।। निर्मल गंगा बहती आयी । ... Read more

बिटिया की अंखियां( -संस्मरण गीत ससुराल से)

बदरी बाबुल के अंगना जइयो, जइयो बरसियो कहियो । कहियो कि हम हैं तोहरि बिटिया की अंखियां। तुम्हरो कहा नहीं मानो, चिठिया न परहिवो ... Read more

बाबुल की बगिया की टूटी कली

ममता का सावन बाबुल का आंगन बिरना का संग बहना छोड़ चली। चलो आओ मिलकर सभीफूल वारे बाबुल की बगिया की टूटी कली। सभी फूल पत्ती ये वृक्ष... Read more

"तंबाकू सेहत के लिए, बड़ी हानिकारक है"

#विश्व तंबाकू निषेध दिवस पर विशेष# तंबाकू सेहत के लिए, बड़ी हानिकारक है फिर भी लोग इसे खाते हैं चाव से, बड़े चबाते है मना कर द... Read more

संचार गान:-

rekha rani गीत May 29, 2019
शूल अनेकों बिखरे पथ में शूलों में ही मंजिल है तूफानों से डर मत जाना तूफानों में साहिल है। आती है बाधाएं कितनी तेरी नींद चुराने को... Read more

पहला -पहला प्यार मुझसे खोने लगा है..

मेरा नया प्यार भरा गीत.. वो पहला -2 प्यार मुझसे खोने लगा है, रहे दिल मेरा परेशां, क्यूँ ये रोने लगा है ।....पहला -पहला... मैं... Read more

सोनपरी की आंखों में (लोरी)

निंदिया रानी गुपचुप आना सोनपरी की आंखों में स्वप्न सलोने खूब सजाना सोनपरी की आंखों में सपनों की डोली में उसको चंदा से मिलवा दे... Read more

२५ वीं वर्षगांठ गृहस्थ जीवन की

rekha rani गीत May 22, 2019
साथ रहेंगे सात जन्म तक ,वादा रहा यह अपना,। बांधी तुम संग प्रीत की डोरी,याद आ रहा वह सपना। याद है सारे स्वर्णिम पल ... Read more

मेरे बुद्ध होने की कीमत

प्रश्नों ने बेचैन किया यूँ मिली न मेरे मन को राहत छोड़ दिया घरबार सभी कुछ राजकुँवर से बना तथागत देख न पाया था कोमल मन जीव... Read more

सफ़र प्यार के गर भाते हैं

फूल खिलते हैं मगर एक दिन मुर्झाते हैं। लोग मिलते हैं मगर एक दिन खो जाते हैं।। मीटर-2122-2122-1222-22 याद आती हैं खिली प्यार की ... Read more

गीत(दिगपाल छंद)

जब जब तुम्हें पुकारा,घनश्याम हे मुरारी तुमने सदा हरी हैं ,विपदा सभी हमारी ये ज्ञान तुम हमें दो ,सदमार्ग पर चले हम विनती यही ,न... Read more

गीत(दिगपाल छंद)

जब जब तुम्हें पुकारा,घनश्याम हे मुरारी तुमने सदा हरी हैं ,विपदा सभी हमारी ये ज्ञान तुम हमें दो ,सदमार्ग पर चले हम विनती यही ,न... Read more

अगर तुझसे न मिलते हम ज़माना मिल गया होता

हमें तुझसे बिछडने का बहाना मिल गया होता अगर तुझसे न मिलते हम ज़माना मिल गया होता उदासी में न कटते दिन न रो रो के गुज़रती रात ... Read more

कश्मीर हमारा

धरती पे उतर आया है जन्नत का नज़ारा क़ुदरत का हसीं तोहफा है कश्मीर हमारा खुश होके खुदा ने हमें बख्शी है ये नेअमत दुनिया की नि... Read more

चार दिनों में खो गया, कैसा था वो प्यार

चार दिनों में खो गया, कैसा था वो प्यार बात मानने को तभी , हुआ न दिल तैयार कहते थे तुम ही कभी, रहते हो बेचैन यादों में डूबे ... Read more

कल्पतरू गीत

🌳🌳✍🏻 *कल्पतरू गीत*✍🏻🌳🌳 *कल्पतरू ने हर इक़ दिल में अद्भुत अलख जगाया है।* *पर्यावरण सुरक्षा हेतु उत्तम कदम उठाया है।।* कल तक ... Read more

पहले निभते थे जान से रिश्ते

पहले निभते थे जान से रिश्ते अब कहाँ वो महान से रिश्ते आँधियाँ स्वार्थ की चलीं कैसी मन में इच्छाएं भी पलीं कैसी मिट रहे है... Read more

होगा वही यहाँ पर जो भी होना है

होगा वही यहाँ पर जो भी होना है फिर क्यों मानव बात बात पर रोना है मिल जाएगा वो जो तेरा अपना है पर पूरा होता किसका हर सपना है ... Read more

मैं भारत माँ का प्रहरी हूँ

मैं सीमाओं पर रहूँ सजग, अपना कर्तव्य निभाता हूँ मैं भारत माँ का प्रहरी हूँ, चरणों में शीश झुकाता हूँ। है शस्य श्यामला भारत माँ,... Read more