गीत

अबके सावन में ये सजनी कछु जियरा ऐंसे डोलत है

अबके सावन में ये सजनी, कछु जियरा ऐंसे डोलत है कछु खोवत हैं कछु पावत है, कभी सोवत है कभी जागत है पावत है सावन के आनंद, खोवत है प्र... Read more

तेरी याद

मुझे तू याद करता है, तुझे मै याद करती हूं, तुम मुझसे मिलने आओगे यही फरियाद करती हूं। पर तुम जब नहीं आते ए....मेरे हमदम, तेरी तस्व... Read more

गीत-1, प्रेम रास- चाँद के पार चलो

हिंदी विकास मंच* *धनबाद,झारखंड* 💐💐💐💐💐💐💐 *चल चल चल ,चल मेरे यार* *आजा लेकर चलूँ में तुझे चाँद के पार* *चाँद के पार बसा एक संसार... Read more

हर गीत में तुमको गाया है..

🍀🍀🍀🍀🍀🍀🍀🍀🍀 हर वर्ण-वर्ण,हर शब्द-शब्द हर गीत में तुमको गाया है .. पावन प्रेम के उपवन सा अपनी भी प्रेम कहानी है, मैं प्यासा सागर ब... Read more

शिवस्तुति

🔱 जय हो हे भोलेभण्डारी 🔱 🔱जय हो हे त्रिपुरारी 🔱🔱 🔱जो भी दर में है कर जोड़े🔱 🔱उसका करते भय भवहारी🔱जय हो हे भोलेभण्डारी 🐉 🔱 जय हो ... Read more

नयन! तुम निर्झर न होना

नयन ! तुम निर्झर न होना, देखकर काली घटाएँ।। कभी सुख से कभी दुख से मेल ऋतुओं का। खिलखिलाना फिर बिफरना खेल ऋतुओं का। राह मे... Read more

ऐसा शंखनाद बजाना है।

भारत है हमको प्यारा,ये हमको दिखलाना है, विश्व के मस्तक पर,भारत का मुकुट सजाना है। देश की खातिर वीरों ने प्राणों का बलिदान दिया, ... Read more

हैप्पी बर्थडे टू यू

वेरी वेरी हैप्पी बर्थडे टू यू। तुम गुलाब हो महकते रहो। आफताब हो चमकते रहो। बेशुमार हों खुशियों के पल। लब पे हो सदा प्यार की प्... Read more

1330 मेरे आँसू ,बिन पूछे ही बरस गए

सुनी पायल की झंकार, तो दीदर को हम तरस गए। याद में तेरी, मेरे आँसू ,बिन पूछे ही बरस गए। क्यों आता है ख्वाब, तड़पाता जो दिन... Read more

हमनें भार समझ कर ढोये

केवल भार समझकर ढोये, किए न अंगीकार! इसीलिए दिखते हैं रिश्ते, थके थके बीमार! ! हमने सिर्फ स्वार्थ को ओढा़, पीर पराई जानी कब! ... Read more

पटकथा फिर से महाभारत की लिक्खी जा रही है।

हर जुबां पर दंभ की चिड़िया तराना गा रही है। पटकथा फिर से महाभारत की लिक्खी जा रही है। है विषय अफसोस का यह, फिर धरा पर विश्व गुरु ... Read more

तानाकशी

आपके आँगन की खुशियाँ कर ही लेंगी ख़ुदकुशी। आपको तन्हा करेगी आपकी तानाकशी । जख्म फिर जगने न पाए , दर्द सारी रात जागे। ... Read more

भारत वंदना

Uma jha गीत Jul 5, 2020
अखण्ड भारत, सुर-सर तारक, कण-कण शायद धारक, जग करे अर्चना, अछि शब्द खंडित, वाणी कुंठिलत करु कोना माँ अराधना । सप्तसिंधुनी, जंब... Read more

शांति वन से बापू बोले

शांतिवन से बापू बोले सुनो सभी इंसान रे हिंदू न मारा मुस्लिम न मारा क्यों मार दिया इंसान रे कोई ईश्वर कोई अल्लाह कोई कहे हे राम र... Read more

चलो चलें मितवा!

💫चलो चलें मितवा💫 चलो चलें मितवा! कोरोना के डर को भगाना है। सुरक्षा नियमों को अपनाकर जीवन को आगे बढ़ाना है। चलो चलें मितवा! ... Read more

" जुन्हाई का निखार " !!

आज नीलांबर मुदित है , धरा भी दिखती ललित है ! चाँद रथ पर सज के आया ,आज रजनी द्वार , चाँदनी गलहार !! रातरानी खिल रही है , गंध मीठ... Read more

हरिक बूंद में इश्क बरसा रहा है!!

रिमझिम बरसता है सावन जनेजां बूंद बूंद में ख्याल तिरा है जानेजां तेरी नजर में नशा जैसे कि भांग का बरसा रहा है इश्क मुझपे ये आसमां।... Read more

दादुरों ने तान छेड़ी

दादुरों ने तान छेड़ी, चुप रहो तुम कोकिलाओं ! हुआ वातावरण कलुषित, कर रहा विष वार चंदन। और दूषित गंध अंजुल भर, प्रणय अभिसार उपवन। ... Read more

#महफ़िल-महफ़िल तेरी यादें

सरग़म-सी घुलके साँसों में,मीठे गीत बनाती हो। मेरे नयनों के अंबर में,बन चाँद मुस्कुराती हो।। महफ़िल-महफ़िल तेरी यादें,ग़ज़लों में बस ज... Read more

अनलाॅक- 2

अनलाॅक- 2 देखो बेसमझी मत करना, सुनो अभी पड़ेगा डरना। सूखी नदी में कैसे तरना, पानी हो तो बहता झरना। जीवन अमूल्य, बचा अगर ना,... Read more

ऐ बाबू बताना

ऐ बाबू बताना *********** ना बरगद है कोई ना पीपल कहीं पर ये कैसा शहर है ऐ बाबू बताना। ना अमवा की डाली ना छोटे टिकोरे ना जामु... Read more

चलो अब लौटें अपने गाँव

चलो अब लौटें अपने गाँव -------------------------------- उखड़ने लगे यहाँ से पाँव। चलो अब लौटें अपने गाँव। बुला रहा है बूढ़ा पीपल,... Read more

सैनिक जैसे गीत...

गद्दारों को अपने दम से, याद दिला दें नानी। सैनिक जैसे गीत लिखो कवि, राष्ट्र भक्त बलिदानी।। निर्धन की आँखों के आँसू, पीड़ा का अखबा... Read more

इतना वो याद आते हैं

दिल के क़रीब रहने वाले जब नज़रों से दूर जाते हैं भूल ही जाते हैं खुद को हम इतना वो याद आते हैं उनके ही ख़्वाब उन्ही के ख... Read more

मिल ना सका हमें प्यार का तोहफा किस्मत रूठी मेरी थी

हर मुश्किल से घिरा हुआ था, ना तुमसे कोई दूरी थी मर के जीना, तुझसे वादा, मेरी तो मजबूरी थी रिश्तो के बंधन में सौदा, भूल तुम्हारी मे... Read more

मेरी भोपाल सुहानी

मेरी भोपाल सुहानी, भोज काल के गौरव की एक जीवंत कहानी बेगम और नवाबों की है, गाथा बड़ी पुरानी हैं शैल शिखर सब हरे भरे, सुंदर झीलों... Read more

भैय्या फौजी

संदेशा हमरा के, मिलल बाटे, खास हो सगरों मनसा, पूराई तोहरा, आश हो सरहद से, आईल बाटे, भैय्या के तार हो दुश्मन ढेर करे, सीमवा के पार... Read more

आजादी के बाद

आजादी के सपने टूटे, आजादी के बाद। जलीं बस्तियाँ धू धू करके, किसका कहें कसूर। जाति धर्म के फोड़े फुंसी, बन बैठे नासूर।। जितना म... Read more

आशा के दीप जलाते हैं योगी

योगी को भोग का रोग नहीं, नित योग का भोग लगाते हैं योगी। जनहित में निशिवासर धाय के, जनता का धीर बढ़ाते हैं योगी । प्रदेश के ... Read more

चाय वाला चाचा(भोजपुरी)

चाय वाला चाचाsssss चाय वाला चाचा तनी चटनी चटाई द चहिया नमक डाली चीन के चिखाई द बासठ वाला भारत ना ह चीन दिखाई द चाय वाला चाचा तन... Read more

पीछे रोज हटे

आगे बढ़ने की धुन में हम, पीछे रोज हटे। कल को विस्मृत कर बैठे कल, कैसे उज्ज्वल हो। केवल तन धो लेने से मन, कैसे निर्मल हो। चाह स... Read more

-:।। देश भक्ति गीत ।।:-

वीर शिवा, राना, नानक, परशुराम की संतानों आजाद, भगत, गौतम, शुबाश को पहचानो सुखदेव, राजगुरु, बिस्मिल, मंगल पाण्डेय को जानो ... Read more

मक्का हो जाये वृंंदावन

चलो तोड़ दे वे दीवारे बॉट रही जो घर ऑगन काशी बने मदीना औ मक्का हो जायें वृंदावन जाति पाति मज़हब का बंधन मानवता को गाली है सारी दु... Read more

जाने कब से.....

जाने कब से मजबूरी के आँगन में, भूख प्यास के घुँघरू बाँधे नाच रहे।। गिरवी रखी हुई है अपनी तरुणाई, पूर्ण सुरक्षित अलमारी के कोने ... Read more

देशभक्ति का गीत

भारत का दुश्मन कोई भी हो वो मुँह की खायेगा दुश्मन को उसकी ही भाषा में समझाया जायेगा पाक सदा आतंकवाद की चालें चलता रहता है पर... Read more

हमने कहा चांद से

हमनें कहा है चांद से अब तो रास्ता बदल गगन पे हक हमारा है तुम्हें नहीं खबर !!! हमने मढ़ा है माथ पर आफताब को। लाया है कदम त... Read more

देता हूं दुआएं कि यार तुमको प्यार हो!

मधुरिम खिला खिला दिल का बहार हो। देता हूं दुआएं कि यार तुमको प्यार हो!! क्या क्या नहीं दिखा था साथ ख्वाब में हां चांद उतर आई थ... Read more

" उर आनंद समाता रहा है " !!

गीत देख मनोहर तेरी छवि को , उर आनंद समाता रहा है ! तू ही प्राणाधार बना है , मन को तू ही लुभाता रहा है !! कोटि जतन से पाय... Read more

राजनीति

अंग-अंग में भरी कुटिलता, रोम-रोम में मक्कारी। कोरोना से कहीं भयानक, राजनीति है बीमारी।। ये लाशों का अम्बार देख खुश, होती है मुस्... Read more

" चिन्तन "

यदि हे 'मां' हमारी बोलती और 'मां' हमारे बोल है| तो पिता सब दुख-दर्द' का खिल-खिलाता बोल है| ज़िन्दगी तो कट रही है किन्तु है अफसोस... Read more

वक़्त चलता चाल कितनी शातिराना है

वक़्त चलता चाल कितनी शातिराना है पैंतरा इसका वही अपना पुराना है जाल सुख दुख के सदा रहता बिछाता है जन्म हो या मृत्यु रखता सबसे ... Read more

पिया कराओ गौना l

गीत शीर्षक - पिया कराओ गौना l =========== कैसी आफत लाओ कोरोना है पिया दूर वाई को रोना जा लोकडाउन में न कछु भावे, झटपट त... Read more

माँ पर गीत

तुम पर कोई गीत भला कैसे लिख पाऊँ? लिखा गया हूँ मैं ही स्वयं तुम्हारे द्वारा। माँ तेरी ममता का पार कहाँ से पाऊँ? कैसे शब्दों का ... Read more

क्रोधित माधव देख रहा हूँ...

"दीप" विवशता लाचारी का, बढ़ता वैभव देख रहा हूँ। मैं अपने नयनों से अपने, स्वप्नों के शव देख रहा हूँ। नेह निमंत्रण पाकर मेरा, आ... Read more

योग तराना एक गीत (विश्व योग दिवस)

गाओ सब मिल योग तराना धरती के इंसान रे चाहे ईश्वर चाहे अल्लाह चाहे कहो भगवान रे कोई न हो बीमार जगत में, न कोई रहे विकारी कहीं न... Read more

भेद मगर खुलकर आएगा

चाहे जितना स्वांग रचा ले भेद मगर खुलकर आएगा। सुख की छाँव, दमकते मुखड़े, दुख की धूप उजागर दुखड़े। जीवन सरिता की धारा में, पाँव लहर ... Read more

योग महा विज्ञान है

भारत की माटी का गौरव, तन मन आत्म विज्ञान है सारी दुनिया बने निरोगी, योग का ये आव्हान है योग समूची मानवता को, खुशियों का पैगाम है... Read more

मेरा शहर सलोना भोपाल

मेरा शहर सलोना, मनभावन है कोना कोना हर मौसम यहां सुहाना, मेरा शहर सलोना मैं शैल शिखर से घिरी घिरी, ओढ़ें चुनरी हरी हरी मदहोश स... Read more

स्वप्न न बेचे...

रोटी की खातिर सबकुछ, बेचा लेकिन, स्वप्न न बेचे। हमनें चौराहों पर रखकर काले जामुन केले बेचे। चीकू सेब संतरे लीची नीबू आम करेले बे... Read more

योग गीत

गाओ मीत योग गीत, छेड़ो प्रेम तराना हम भी गांएं तुम भी गाओ, गाये ये सारा जमाना स्वस्थ रहे तन मन, खुशहाल रहे जन-जन सुख शांति की ... Read more