गीत

चली चली बिटिया हमसे दूर चली (विदाई गीत)

***बिटिया के प्रति,पिता के भाव आज की आवश्यकता*** !!!!! भावात्मक गीत !!!!! बिटिया बनकर आज दुल्हनिया ,बाबुल का... Read more

स्नेह गीत - लगन लगी तेरी लगन लगी !

लगन लगी तेरी लगन लगी ,लगन लगी तेरी लगन लगी। ऐसी तेरी लगन लगी, जैसे तैसे दिन था यह बीता। सारी रतिया में तो जगी, लगन---------------... Read more

प्यासे हैं दो नैन

छाई रे घटा घनघोर, आए नजर न भोर रे मन छाई रे घटा घनघोर काम क्रोध मद लोभ मोह की, बला बड़ी चितचोर रे मन छाई रे घटा घनघोर घनी है... Read more

बेटी की विदा

🌺 विदा - गीत🌺 छोड़ आपका आंगन बाबुल, ये लाडली तेरी चली। जा रही देख तेरी बिटिया, वो नाज से जो थी पली।। भूल क्या हुई माता मुझसे, त्... Read more

जुवां से क्यों नहीं कहतीं कि मुझसे प्यार करती हो

यूँ आँखों आँखों में तो हर दफा इज़हार करती हो। जुवां से क्यों नहीं कहतीं कि मुझसे प्यार करती हो। गुलाबीलब,खुलीजुल्फें लगाकर नैनोंम... Read more

भजन *मैया घर मेरे भी आ जाना*

मैया घर मेरे भी आ जाना ! मुझको भी दर्श दिखा जाना !! मैया भक्त तेरे हम नादाँ हैं , थोड़ा ज्ञान हमें भी दे जाना ! तेरे प्यार के प... Read more

###ये जीवन है अनमोल रे !###

हम भी आए हैं तुम भी आए जाना सबको जरूर रे लोभ मोह से तोड़ के नाता ,करना इनको दूर रे। ये जीवन है अनमोल रे। बोले प्रीति के बोल रे ।।... Read more

कोरोना काल ,

#आयोजन :- रस आधारित गीत #प्रदत्त_रस :- हास्य रस #विधा:- दोहा गीत ----------------------------------------------------------------... Read more

जीवन गाथा

जीवन सुख का सार, क्षण में खो जाता है। जाने क्या - क्या यार, पल में हो जाता है।। चले ढूंढने मोद, गमों से पड़ ... Read more

ग़रीबी

................ #गरीबी ................. है क्षुधा हमको सताती, सकल सुविधा हीन हैं। जन्म से ही हैं अभागे, भाग्य ... Read more

सिया स्वयंवर अद्भुत रस

प्रदत्त रस:- अद्भुत रस विषय: - स्वैच्छिक ( धनुष यज्ञ) विधा :- गीत (१६/१४) __________________________________ राज्य-राज्य से भूप ... Read more

भयानक रस

विधा :- गीत ( १६/१६ ) प्रदत्त रस:- भयानक रस अशोक वाटिका में हनुमान को सबकुछ तहस नहस करता देख भय से भयग्रस्त सैनिक एवं लंकापति रावण... Read more

ओ रे दिल तू बदल ना जाना

ओ रे दिल तू बदल ना जाना के अब समय कुछ ठीक है भूल ना लक्ष्य भटकी दिशा में बस तुझको यही सीख है ये जो कांटे तेरे पथ में ... Read more

प्यार का प्रपंच

गर्व करें हिंदी पर अपनी, बोलें इंग्लिश बोल। ग्रैडी मम्मी बोल रहे सब, बजा बजा कर ढोल।। बच्चे पढ़ते इंग्लिश विंग्लिश, हैबिट सारे ब... Read more

हिंदी से प्यार

गर्व हमें हिन्दी भाषा पर, इससे हमको प्यार। जिसमें पुत्र पिता कहता है, भार्या प्राणाधार।। यह है लोक लुभावनी भाषा, जैसे हों संगीत।... Read more

वार पीठ पर

सुख-सुविधा का वहम लपेटे इस मशीन को ठेल रहे हम! बॉलीवुड सा अभिनय करके अंदर-अंदर मरे हुए। पर्दा खींच रहा निर्देशक हम हँसते पर ... Read more

**तिरंगा मेरे देश की शान**

तिरंगा मेरे देश की शान - तिरंगा मेरे देश की शान। छांव में जिसकी जग से आगे सारा हिंदुस्तान।। तिरंगा मेरे______________। (१) जन-जन ... Read more

जल का महत्व -- ""पानी पानी पानी रे""

पानी पानी पानी रे ,जन-जन की जिंदगानी रे । पैसों से ना प्यास बुझेगी, काहे करे नादानी रे । पानी पानी पानी रे -- जन-जन की जिंदगानी र... Read more

मुस्कुराने लगेगी यही ज़िन्दगी

साथ में पग हमारे मिलाकर चलो गीत गाने लगेगी यही ज़िन्दगी गम के मौसम रहेंगे नहीं फिर यहाँ मुस्कुराने लगेगी यही ज़िन्दगी तान छेड़ी ... Read more

जनता की मांग

जनता की मांग जनता अब कुछ मांग रही है,उसको धीर बंधा दो तुम आज किया उससे सहमत है,आगे नियम बना दो तुम हिन्दू मुस्लिम सिक्ख ईसाई,... Read more

हिंदी दिवस की हार्दिक शुभकामनायें (एक गीत)

हिंदी दिवस की हार्दिक शुभकामनायें प्रीत सत्य का प्राण तुम्ही हो l स्वपनों का परिणाम तुम्ही हो ll प्रीत का हर कण कण तुम्ही... Read more

जो तुम आ जाते एक बार

जो तुम आ जाते एक बार सिंगार अपना संवार लेती जो तुम आ जाते एक बार तन मन तुम पर वार लेती । सारे मौसम आते जाते पर प्रिय क्य... Read more

तू देश का रक्षक है

तू देश का रक्षक है तू देश का रक्षक है तेरी सेवा से महफूज हम तेरी सेवा से महफूज हम गर चूक हो जाए तुमसे गर चूक हो जाए तुमसे मि... Read more

!!! हिंदी को हम नमन करें!!!

मां कह कर के जिसे पुकारा कंठ में जिसे उतारा है। मातृभाषा यह हिंदी हमारी देश बोले जिसे सारा है।। न... Read more

देखें एक गीत

वर्तमान परिपेक्ष्य में साहित्य मनीषियों के समक्ष सादर संप्रेषित एक नवगीत 🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏 आज वतन को फिर से प्यारे,नेता जी की हुंकार मिले। ... Read more

तुम बहुत याद आते हो - डी के निवातिया

तुम बहुत याद आते हो, तुम बहुत याद आते हो,क्यों इतना सताते हो जीने देते,न मरने देते हो क्यो इतना रुलाते !! जब से तुम चले गए द... Read more

वन मृग

खोज थका कस्तूरी को मृग मन के वन में टूट गया संचित था जो कुछ पहले का वह भी पीछे छूट गया मन की तृष्णा गई खींचती बुझी न ऐंसी ... Read more

युद्ध भीषण हो रहा था ( वीभत्स रस)

युद्ध भीषण हो रहा था। मनुज मति तब खो रहा था।। मांस के चिथड़े पड़े थे। आँख गिद्धों के गड़े थे।। पिशित मानुष का ... Read more

प्रेम पातीं

विषय :- प्रणय मिलन विद्या :- गीत दिनांक :- १४/२/२०२० दिन :- शुक्रवार ===================================== 【रचना】 प्रीत ... Read more

मेरा परिचय

------++---------+---#आत्म_परिचय---+----------++----- मुसहरवा मंशानगरी है, जन्म लिया वह ग्राम। संजीव शुक्ल 'सचिन' ... Read more

""""सरस्वती वंदना"" (द्वितीय)

भाव जगा दे भाग्य बना दे, जय मां वीणा वादिनी । ज्ञान कुंज बन जाए यह मन, जय मां विद्या दायिनी। दया कर दे -... Read more

!!!!तू मेरा प्यार है प्यारा!!!!

तेरी वफा को मैंने है समझा तूने हरदम दिया है सहारा । तू मेरा प्यार है प्यारा ---तू मेरा प्यार है प्यारा -- २ (१) जब जब घिरता म... Read more

------- धरती है बलिदान की----

गांधी गौतम वीर शिवा की यह धरती प्यारी प्यारी। भगत बोस सुखदेव के हम तो सदा रहेंगे आभारी। धरती यह बलिदान की, मे... Read more

जैसे नदिया बहे नीर

जैसे नदिया बहे नीर, तुम बहते जाना रे राम रस लेते जाना रे, जैसे नदिया बहे नीर तुम बहते जाना रे जब तक रहना, प्रेम से रहना, नाम क... Read more

"""""पढ़ने दो मुझे पढ़ने दो""""""️️️️

अभी नहीं मेरी उमरिया बाबुल कन्यादान की। नन्ही हूं मैं कमसिन बिटिया पोथी थमा दो ज्ञान की। पढ़ने दो मुझे पढ़ने दो - सपने अपने गढ़... Read more

श्री कृष्ण महिमा

विद्या :- गीत छंद :- हरिगीतिका छंद छंद विधान:- 👉 हरिगीतिका एक मात्रिक छंद है जिसमें 16,12 कुल 28 या 14,14 कुल 28 मात्राएँ होती हैं... Read more

हम हैं टीचर

हम है टीचर नही फटीचर मुँह में पोएट्री हाथों में रोल छात्रों से करते गाली गलोज सरकार बनाते सरकार गिराते बातों के मुर्गे ती... Read more

मन की बात

आजा करलें मन की बात हो रही है सांझ फिर होगी रात तू मेरे साथ चमकते जुगनुओं की रात करेंगे मन की बात तन मन की बात । तू क्यों उ... Read more

यार मंजिल मिरा है नहीं बेवफ़ा।

212 212 212 212 रास्ते हर दफा हो रही है खफा। यार मंजिल मिरा है नहीं बेवफ़ा। मैं थका कब कहो राह चलते मगर। ना वफ़... Read more

गीत

गीत ------ वक्त है वक्त पर चलेगा, दिन हुआ है तो ढलेगा। चलता चल तू राहों पर, नसीबा बदल जायेगा।। मेहनत की अग्नि में तपा, ... Read more

शिक्षक दिवस (गीत)

शिक्षक दिवस गुरू हम पर कृपा करना {2} गुरू हम पर दया करना। अपनी ज्ञान पुंजों से तुम, सदा शिक्षा का प्रसार करना। दूर हो अ... Read more

तोड़ दो --छोड़ दो प्रथा पुरानी तोड़ दो !

युग नया अब आया बंदे कुरुतियों के खेल है गंदे बचपन जिसमें मर सा जाए ऐसी प्रथाएं छोड़ दो । छोड़ दो छोड़ दो प्रथा पुरानी तोड़ दो... Read more

फुरसत के पल

फुरसत के पल मिल जाया करता मन खुशी से खिल जाया करता। मन की बातें सबसे बताया करती घर- आंगन खूब सजाया करती सबके लिए पकवान बनाया... Read more

कुछ पुराने गीत

सप्त स्वर से जिंदगी के गीत गाते दूसरों को सुख की जो चादर बिछाते उनके जीवन में कभी न हो अँधेरा इसलिए दीपक जलाता आ र... Read more

आ तो गए हैं सारे शिरडी के गाँव में

हो हो ओ हो.... हो हो हो हो हो हो.... हो हो ओ हो.... आ तो गए हैं सारे शिरडी के गाँव में-२ time भक्ति की छाँव में बिठाये रखना... Read more

बेखौफ नजर आता है

****** बेखौफ नजर आया है ******** ******************************* मुझे वो ख्वाब में बेखौफ नजर आया है चाँद सा रौशन वो मदहोश न... Read more

जब दिल से दिल का मिलन हुआ

जब मिलने को घण्टों बैठा, तब समझा इंतजार क्या है? जब दिल से दिल का मिलन हुआ,तब ये जाना कि प्यार क्या है? रहकर संग त... Read more

मैं पूजता हूँ कबसे, तुझको ही साईं मेरे

मेरी आवाज़ में इसे आप सुन भी सकते हैं। कृपया मेरे व्हाट्सएप्प 8178871097 या ईमेल m.uttranchali@gmail.com पर सन्देश भेजें। मैं पूज... Read more

**शारदे मैया** -- वंदना

शारदे मैया शारदे मैया शरण तुम्हारी प्यार दो मैया कि ज्ञान का दीप जला दो हमें विद्वान बना दो (१) मन ना भटके म... Read more

विरहन का सावन

rekha rani गीत Aug 26, 2020
जिनके पिया सरहद पर पड़े हैं ,वो क्या सावन गाएं। निश -दिन बरसें नयन विरह में ,घुमड़ -घुमड़ हिय जाएं। मन पर छाई मोरे कारी बदरिया... Read more