Skip to content

Category: दोहे

जीवन के दिन रात
भाई मेरे बन गए, तब से अतिथि समान । जबसे उनके हो गए, अपने अलग मकान।। एक छोर पर ख्वाहिशें ,.. दूजे पर औकात! जिसमे... Read more
हिंदी
Rita Yadav दोहे Sep 21, 2017
1. हिंदी -बिंदी हिंद की, सजी हिंद के भाल l ओढ़ बैठ रहती मगर, अंग्रेजी की शाल ll 2. अपने ही घर में हुई,हिंदी है... Read more
माँ दुर्गा के दोहे
माँ दुर्गा के दोहे *********** रक्तिम साड़ी तन सजे,गुड़हल हार सुहाय। मस्तक मुकुट बिराजता, शोभा भक्त लुभाय।। सवा रुपैया नारियल, रोली अक्षत हाथ। हलुआ पूड़ी... Read more
दोहा
Shri Shankar दोहे Sep 17, 2017
??????????? *समय चक्र पूरा करे, हर हफ्ते रविवार।* *कार्य अधूरे हैं पड़े, फिर से हों तैयार।।* *ऊर्जा शक्ति नई भरें, कर लें दृढ़ विश्वास।* *कर्म... Read more
हिंदी दिवस पर
माह सितम्बर की हुई, है चौदह तारीख ! देंगे सारे आज फिर,हिंदी तुझको सीख! ! हिंदी मेरे देश की,..... मोहक मधुर जुबान ! इसका होना... Read more
हिन्दी
☘?☘?☘ ? हिन्दी ? ************ पखवाड़ा हिन्दी मना , करते हैं गुणगान । पर फिर पूरे सालभर, रखें न इसका ध्यान।।1 *** पखवाड़े को त्याग... Read more
श्राद्ध मे
जीते जी माँ बाप को,...नही पिलाया ऩीर! श्राद्ध पक्ष में मे शान से,उन्हे खिलाते खीर !! जिन्दा थे तब तो कभी, लिया न आशीर्वाद !... Read more
नसीब
सुनने में लगती हमें, सचमुच बात अजीब ! बने न जिसका काम वह, कोसे बैठ नसीब !! ........ गढ़ता है समभाव से , सारे कलश... Read more
बोलें तुच्छ जुबान
बेहूदा बातें करे,..... बोले तुच्छ जुबान ! अपने को पहचान ले, पहले वह इंसान !! कहने से पहले मनुज,...... अपने को पहचान ! तोल-मोलकर बात... Read more
आँसू
आँसू मन का कर गए, सीधा सा उपचार खारे पानी मे बहे, मन के सभी विकार गम हो या कोई खुशी, आँसू बहें जरूर दिल... Read more
प्रकृति
वर्षा ऋतु सद्प्रीति का सुंदर भाव-विधान | क्षण-क्षण मिलन समान है कर लो अनुसंधान || प्रकृति -प्रेम सुख- धाम है त्याग दीजिए शोक | ज्ञान... Read more
श्रीराधाष्टमी पर्व...
? जय जय श्रीराधे ? चराचर जगत कूं ब्रजबल्लभा ब्रजस्वामिनी रसिकप्रिया ''श्री राधेजू'' के प्राकट्योत्सव '' श्रीराधाष्टमी पर्व '' की अनन्त मङ्गल कामनाएं एवम् कोटानिकोट... Read more
झगडें का कारण
बढी गरीबी देश मे,....दो का दूना चार! कारण इसका मूल है,बढता भ्रस्टाचार !! नारी हो या हो रकम ,या हो मित्र जमीन ! झगडे का... Read more
बाढ का कहर
किया बाढ ने देश मे,.......ऐसा बंटाधार ! कितनो के टूटे हृदय,कितनो का घर बार !! कहे कहानी बेरहम, बर्बादी की बाढ़ ! आया है फिर... Read more
तुलसी महिमा
???? तुलसी भारत देश में, पूजनीय कहलाय। युग-युग से तुलसी यहाँ, देवी मानी जाय।। 1 तुलसी हिंदू धर्म में, जग जननी कहलाय। आँगन की शोभा... Read more
गर्व नहीं करना
Rita Yadav दोहे Aug 13, 2017
गर्व नहीं करना कभी, धन पर ऐ इंसान l कर जाता पल में प्रलय , छोटा सा तूफान ll ____________________________ सैनिक प्यारे देश के, कितने... Read more
दोहे
रक्षा बंधन के पर्व पर कुछ दोहे-- 1- बहुत मुबारक आपको, राखी का त्योहार । सदियों तक कायम रहे, भाई बहन का प्यार ।। ?????... Read more
पूजन
आज उठी उर पीर अति,नयन सजल मम होय। बीता जीवन बस तुम्हीं,बिलख बिलख उर रोय।। छंद भाव रस लय रहित,लगा रही अरदास। मम पूजा अर्चना... Read more