बाल कविता

हिन्दी बोलो मत शरमाओ

हिन्दी बोलो मत शरमाओ* ◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆◆ जग की राज दुलारी हिन्दी है भारत माता की बिन्दी हिन्दी बने विश्व की भाषा स्वाभिमान ... Read more

जय हिंदी 108

होठों पर बहती हिंदी की धारा है जय हिंदी जय हिंदुस्तान हमारा है भारत माता के माथे की है बिंदी सरल सुलभ कोमल सी भाषा है हिंदी ... Read more

मेरी टीचर

बाल कविता "मेरी टीचर" ------------- सबसे प्यारी मेरी टीचर सबसे न्यारी मेरी टीचर मीठे मीठे गीत सुनाकर मुझे पढ़ाती मेरी टीचर... Read more

बाल पहेली

बाल पहेली (1) एक जगह पर रहकर सब को रोशन करता हूँ , कोई नही मुझ तक पहुँचा मैं बहुत दूर रहता हूँ । (2) ... Read more

तोतली जुबान

तोतली जुबान ========== बच्चा जब पहली बार अपनी तोतली जुबान से बोलता है, तब माँ को संसार का जैसे आनंद मिल गया होता है। बच्चे को... Read more

आमों वाले दिन (107)

आये फिर से देखो भैया आमों वाले दिन खट्टी खट्टी मीठी मीठी यादों वाले दिन जेबों में भर भर कर कच्ची कैरी लाते थे डांट बाद में क... Read more

परोपकारी बादल

नानी नानी मेरी नानी बात पड़ेगी तुम्हें बतानी बादल तो काले दिखते पर कैसे स्वच्छ गिराते पानी । गंदे पानी के कारण ही नानी बादल दिखत... Read more

चन्दा मामा

चन्दा मामा जादूगर हो ? ऐसा कैसे कर पाते हो ? धीरे धीरे बजन घटा कर फिर बैसे ही हो जाते हो अपनी मां से, सुनो भानजे गलबहियाँ डा... Read more

आलू राजा (106)

सबके प्यारे आलू राजा रहते हैं ये हरदम ताज़ा लौकी तोरी इन्हें न भाती भिंडी पर इनसे कतराती गोभी आलू बिना अधूरी बच्चे खाते ... Read more

स्वतंत्रता दिवस का उत्साह

'लघुकथा' "स्वतंत्रता दिवस का उत्साह" आज चेतन बहुत ही उत्साहित था। आखिर हो भी क्यो न कल जो स्वतंत्रता दिवस है। उसने सुबह-सुबह ख... Read more

सन्नाटे को तकिया धुआं को गिलाफ कर लिया

सन्नाटे को तकिया धुआं को गिलाफ कर लिया हमने आज फिर से "जाना" तुझ को मांफ कर दिया भटकते रहे देर तक दिल के सर्द गलियों में तन्हा ह... Read more

बचपन

बचपन ****** जब हम छोटे थे बाबा के पास सोने के लिये आपस में खूब लड़ते थे, बड़े होने का दंभ भी था तभी तो छोटों को धमका लेते थे। त... Read more

गुड़िया रानी

गुड़िया रानी ÷÷÷÷÷÷÷ मेरी गुड़िया रानी है लेकिन बड़ी सयानी है, पापा की आँखों का तारा लेकिन सबकी नानी है । मम्मी की आँखों का तारा ... Read more

कोरोना दादा

कोरोना दादा """""""""""""""""" हे मेरे कोरोना दादा बस बहुत हो चुका अब आप चले ही जाओ। बहुत सताया आपने स्कूल जा नहीं पाते यार... Read more

बाल कविता

मुंह में पानी लेकर पुछते सब दाम बन्दर ने बताया मैंगो मायने आम। मोटू पतलू साथ -साथ चले बजार, सिंहम बताये पोमग्रेनेट मायने अनार... Read more

बिल्ली रानी

बिल्ली रानी बड़ी सयानी आई मेरे घर दूध, दही,खूब खाया रात में थी घर पर। मम्मी,पापा,सो रहे थे न थी कोई खबर बिली रानी बड़ी सयानी आई म... Read more

नन्हा मुन्ना बच्चा

नन्हा मुन्ना बच्चा हूं बात का मैं पक्का हूं नानी के घर जाता हूं दूध, दही खाता हूं दूध,दही बच जाता है दोस्तों को खिलाता हूं ... Read more

हुआ सवेरा

रोज सवेरे हम हैं उठते उठ कर के है हम मंजन करते मंजन करके रोज नहाते रोज नहाकर मंदिर जाते मंदिर जाकर भोग लगाते भोग लगाकर घर को आत... Read more

एक बगीचा

आसमान सा बड़ा बगीचा मैं भी एक लगाऊँगा सूरज होंगे तीन चार पर चन्दा सात उगाऊँगा।। नीले पीले और गुलाबी हर रंग के तारे होंगे ल... Read more

चमकता जुगनू

चमचम करता जुगनू आय साथ में अपने रोशन लाया घूम घूम के घर आंगन मेरे घर को उसने खूब सजाया चमचम करता जुगनू आय छुपकर के मैं देखूं ... Read more

हम छोटे बच्चें हैं

हम छोटे छोटे बच्चें हैं पर दिल के होते सच्चे है ईर्षा दोष न जाने हम सबको एक जैसा माने हम हम छोटे छोटे बच्चें हैं पर दिल के होते... Read more

उम्र है छोटी

नाम मेरा है ग्रंथ शर्मा रहता हूं मैं अपने घर में उम्र मेरी दो वर्षों वाली काम मेरे हैं सोलह वाले घर से जब हम बाहर निकलें। ... Read more

चंदा मामा

चंदा मामा चंदा मामा रात को मेरे घर पे आना रंग बिरंगे अपने किरणों को आंगन में मेरे बरसाना नन्हें मुन्हें प्यारे प्यारे अपने सा... Read more

इंसान बनाएंगे

मिलकर फिर लहू बहाएंगे हम भारत नया बनाएंगे जाति धर्म की बात जो करते उनको इंसान बनाएंगे खर्चों से कुछ नित्य बचाकर रूखी सूखी ... Read more

चंदा मामा

चंदा मामा दूर रहे हो ऊपर से ही घूर रहे हो। मुँह मटका चिढाते हो दिखते कभी छिप जाते हो। चमक चांदनी साथ में लाते इसलिए ओषधिपति कहल... Read more

चुन्नू मुन्नू कैसे हो..

चुन्नू मुन्नू कैसे हो ? मुँह लटकाये बैठे हो चलो उठो अब दौड़ लगाओ कूदो भागो मौज मनाओ।। मम्मी जी ने डाँट दिया मोबाइल भी छीन लि... Read more

बम बम बम(1)

1 बम बम बम बम बम बम बम बाजे डमरू डमडमडमडम बच्चे भोले भाले हम लेकिन नहीं किसी से कम आये मंदिर हम चलकर लोटा लाये जल भरकर... Read more

कोरोना

कोरोना! तुम जाओ ना ***************** कोरोना!तुमने बहुत सताया अब तो घर को जाओ ना तेरी मम्मी ढूँढती तुझको दूध-भात तो खाओ ना। क... Read more

बचपन

प्यारी अटखेलियाँ नन्हीं सहेलियाँ भाँती हैं मुझको इनकी पहेलियाँ , छुप्पन - छुपाई झगड़ा - लड़ाई रूठना - मनाना गुस्सा - हँसाई , य... Read more

" छुट्टियाँ "

आये आये दिन आये छुट्टियों के देखो दिन आये , अब मस्ती सैर - सपाटा होगा टीचर का नही चाँटा होगा , देर से सो कर उठना है पाठ नही अब ... Read more

आमों वाले दिन(2)

आये भैया देखो फिर से आमों वाले दिन खट्टे खट्टे मीठे मीठे स्वादों वाले दिन खूब रसीले खरबूजे तरबूजों वाले दिन प्यारी प्यारी बचपन ... Read more

जामुन का पेड़(3)

3 जामुन का पेड़ ************ ठीक हमारे घर के आगे जामुन का इक पेड़ लगा है काले काले बड़े बड़े से गुच्छों से वो खूब लदा है ल... Read more

बिल्ली रानी

बिल्ली रानी(बाल गीत) ★★★★★★★★★★ दबे पाँव से आकर घर में, चुपचाप से सो जाती हो। कोई ना दिखे तो तुम, झट दूध पी जाती हो। पास आ क... Read more

रेलगाड़ी का खेल (बचपन)

----------------------------- लम्बी टेढ़ी मेढी रेल आओ हम मिलकर खेले खेल। जुडकर हम सब डिब्बा बन जाएं आज रेल का खेल खिलाएं। मुँह ... Read more

नन्हीं छोटी चिड़ियारानी

नन्हीं छोटी चिडियारानी पंख तुम्हारे पीले धानी चूं चूं करके कुछ कहती हो अपनी धुन में खुश रहती हो चिडियारानी माह जून का बढ़ा रहा... Read more

क्या होता है कोरोना

क्या होता है कोरोना छोटू ने मम्मी से पूछा एक बात बतलाओ। क्या होता है यह कोरोना, आप मुझे समझाओ। बंद हुए स्कूल, खेलने पर भी पाबंद... Read more

लॉकडाउन(4)

4 शेरू बिल्लू कालू टाइगर, शोर मचाएं भौक भौंककर। ऐसी भी क्या आफत आई, क्यों इतनी खामोशी छाई। कोई नहीं किसी से बोले, ना... Read more

घड़ी

घड़ी-(बाल कविता) दिनभर चलती रात न थकती सुई नही सुस्ताती है सही समय बतलाती है । टिक टिक की आवाज लगाती... Read more

खाये जाओ चुपचाप

तुम खाये जाओ ,खायो जाओ चुपचाप। और हम बढ़ाये यंहा रक्तचाप। कोई बात नही, दिन हमारे भी फिरेंगे । दो कौर सही, तेरे साथ जलपान करेंगे।... Read more

परी सी

हो तुम परी सी, सोलह आना खरी सी। हो सबकी प्यारी तुम, हो जबकि न्यारी तुम, थोड़ी खाली , थोड़ी भरी सी, हो तुम परी सी। सोलह आना खरी... Read more

गर्मी का मौसम(5)

5 गर्मी के मौसम की आहट आती है धरती माता फूली नहीं समाती है आमों की खुशबू आती हैं बागों से गीत कोकिला कितना मधुर सुनाती है ... Read more

चलो चाकलेट के बाग़ लगाते हैं

चलो चलकर चाकलेट के बाग़ लगाते हैं मैंगो फ्रुटी से भरा हुआ तालाब बनाते हैं बिस्किट के पत्ते लालीपाप की कलियां हों सेव, नमकीन,ल... Read more

तितली....

तितली आई तितली आई । मन में खुशियाँ भर लाई ।। रंग बिरंगे पंख फैलाकर । फूल फूल से रस भरकर ।। देखो कितनी इठ... Read more

कोरोना तू अब तो जा

कोरोना तू अब तो जा -------------------------- कोरोना तू जा जा जा। खा के जहर कहीं मर जा।। बहुत हो चुका तेरा राज। बंद घरों मे... Read more

बचपन और कोरोना(6)

6 कोरोना ने आग लगाई कुछ भी देता नहीं दिखाई स्कूलों ने की लंबी छुट्टी हम बच्चों की आफत आई घर में बन्द पड़े रहते अब करनी... Read more

बचपन की याद ---2

बचपन था न्यारा वो कितना जिसमें सबसे नाता था गलती हो कितनी भी हमसे लेकिन सबको भाता था लगता है खो गई कहीं वो बीती बात पुरानी ... Read more

बचपन की याद

अठखेली करना दादी संग चलने को कहना साथ में दादी मुझको ले चलो संग अपने खजनी हाट में ले लूँगा खिलौना मैं फिर भैया को चिढाऊँगा घ... Read more

" गिलहरी की कहानी "

🐿️🐿️🐿️🐿️🐿️🐿️🐿️🐿️🐿️🐿️🐿️🐿️🐿️🐿️🐿️🐿️🐿️ आओ बच्चों तुम्हें सुनाए , एक गिलहरी की कहानी । भूरे रंग की थी गिलहरी रानी , हमेशा करती रह... Read more

हम बालक भोले-भाले हैं

हम बालक भोले - भाले हैं। चाहे गोरे हैं या काले हैं। है अपनी अलग सी दुनिया, हम जग में सबसे निराले हैं। छोटे - छ... Read more

नभ की सैर

आओ बच्चों करो न देर । चलते करने नभ की सैर ।। देखो टिमटिम करते तारे । लग रहे है कितने प्यारे ।। चमक रहे है चंदा मा... Read more