Skip to content

Category: साहित्य कक्षा

हाइकु रचना : कलात्मक और दर्शनात्मक अभिव्यक्ति
हाइकु विधा को जापान के कविश्रेष्ठ बोशो (1644–1694) ने एक काव्य विधा के रूप में स्थापित किया जिसे आजकल संसार की अनेक भाषाओँ ने अपना... Read more
वर्ण पिरामिड और सिंहावलोकनी दोहा मुक्तक
सुरेशपाल वर्मा जसाला यह मेरी नवविधा है - ''वर्ण पिरामिड'' ************* [इसमे प्रथम पंक्ति में -एक ; द्वितीय में -दो ; तृतीया में- तीन ;... Read more
कुण्डलिया कैसे लिखें...
त्रिलोक सिंह ठकुरेला जी द्वारा -- "कुण्डलिया कैसे लिखें" कुंडलिया दोहा और रोला के संयोग से बना छंद है। इस छंद के ६ चरण होते... Read more