Skip to content

कहानियों एवं कविताओं के लेखन का शौक ।
युवा साहित्यकार
फेसबुक-www.facebook.com/satyamyadav555
कानपुर उ. प्र. , संपर्क सूत्र -7619087371
ई-मेल : skyadav0730@gmail.com

All Postsकविता (3)
फिजूलखर्ची
कांपते हुए उस भिखारी की जिंदगी ठिठुरते हुए गुजरती रही, उस बदनसीब को दान देना दुनिया फिजूलखर्ची समझती रही। बेशुमार दौलत जमा करके तुम्हें क्या... Read more
मत मान हार
मत मान हार तू जरूर जीतेगा, अपने मुरझाए बगीचे को तू ही तो सींचेगा । माना किस्मत की मार से तू कमजोर हो गया, इन... Read more