Skip to content

रजनी रामदेव
जन्मस्थान कानपुर
बी एस सी (मैथ्स)
पति--एस एन रामदेव
शौक--गद्य , पद्य लेखन,गायन और साहित्य पठन
कुछ फेसबुक के साहित्यिक ग्रुप्स में सम्मान तथा कुछ रचनाएँ प्रकाशित

Share this:
All Postsकविता (1)कुण्डलिया (1)घनाक्षरी (1)
नारी शक्ति
नारी फौलादी समझ, सुकुमारि नही मान उमा रमा सीता सती, ...रानी झाँसी जान रानी झाँसी जान...,.. मान मत यूँ बेचारी आती अपनी आन,... तानती देख... Read more
चाहत तुम्हारी
#तुम_कब_आओगे---- ************************************ तुम्हारी बूढ़ी आँखों में दिख रहा मुझे इक सपना.... आस लगाकर बैठे हो कब आएगा कोई अपना.... दूर, बहुत दूर चले गए हैं... Read more
फागुन
हाथन भरे हैं रँग, .......सखियन के हैं सँग फागुन को हुड़दंग,..........होली खेलन लगे भर पिचकारी मारी, भिगो दीन्ही मोरी सारी बात तो मानो हमारी, ........काहे... Read more