Skip to content

कभी फुरसत मिले तो पढ़ लेना मुझे,

भारी अन्तर्विरोधों के साथ दृढ़ मानसिकता की पहचान हूँ मैं..॥

Share this:
All Postsकविता (2)गज़ल/गीतिका (1)शेर (2)