Skip to content
प्रेम
मुझे प्रेम से गले मत लगाओ .. मुझे देश के लिए लड़ना है मैं कमज़ोर न पड़ जाऊँ .. तुम ईश्वर से प्रार्थना करना ।... Read more
प्यार
वो लड़की बहुत अच्छी लगती है । जो मेरे यादों में बसती है । मेरे आँखों की नमी देख ... जो खुद रो पड़ती है... Read more
ग़ज़लनुमा
ग़ज़लनुमा मशवरा देना हो तो दे देना चाहिए , पीना चाहे कोई तो पिला देना चाहिए । चाँद , तारे , ये हवाएं सब तुम्हारी... Read more
बेटियाँ
।। बेटियाँ ।। सारे संसार में भगवान की सबसे अच्छी कृति हैं बेटियाँ , बाप का मान सम्मान और ईश्वर का वरदान हैं बेटियाँ ।... Read more
बेटी
बेटी वो घर मन्दिर है जिस घर में माँ की पूजा होती है , वो नसीब वाले माँ बाप हैं जिन के घर बेटी होती... Read more
प्रतीक्षा
। प्रतिक्षा । हर पल तुम्हारी प्रतिक्षा करता हूँ .. तुम मेरे निकट नहीं आती हो । क्या मैंने ही प्रेम किया था ? तुम... Read more
सरकारी नौकर
सरकारी नौकर सरकारी नौकर का स्वतंत्र अधिकार है ..। दफ़्तरी पैड , पेन ,पेपर ,पिन ,स्टेप्लर .. दफ़्तर की दराज में बचे हुए पन्ने ,... Read more
आपदा
कहर ! प्रकृति का या मानव का प्रकृति पर ? कौन निश्चित करेगा ? कौन मरेगा , कौन बचेगा ..? पर्वत खोद कर बेच डाले... Read more
अस्पृश्यता
।। अस्पृश्यता ।। अरे ! ये नीच है .. इस के हाथ का खाया ... अब तू ,ब्राह्मण, क्षत्रिय नहीं रहा । इसे गाँव से... Read more
स्त्री
स्त्री अबला और सबल , के बीच बढ़ चली स्त्री चाँद तक , मौन तोड़ कर ... अपने सपने ख़ुद बना रही है , बुन... Read more
हाइकू
हाइकु 1 प्रेम उर में बिछोड़ शरीर में नीर नैन में । 2 जिन्दा को लात मारने पर श्राद्ध पिण्ड व भात । 3 छोटा... Read more
जन्माष्टमी
कृष्ण जन्म दुःशासन घर - घर जन्मे हैं .. कंस ने लिय हर घर अवतार शकुनि भाईयों में पनपे हैं .. कौन करे अब बेड़ा... Read more
मोह
मोह माँ के चरणों को छोड़ , सुख भूल पिता के कामों का , कोमल तरु की छाँव छोड़कर .. भटक रहा हूँ इन नगरों... Read more