Skip to content

शाम्भवी मिश्रा,उम्र-19 वर्ष,शिक्षा-स्नातक अध्यनरत ,कानपुर उत्तर प्रदेश
पिता -श्री राजेश कुमार मिश्रा,माता-श्री मति मधुमाला मिश्रा।
जन्म-14/10/1997
संपर्क सूत्र-7272821068

All Postsकविता (1)गीत (2)
घूँघट
मर्यादा का घूँघट,मत खोल राधा प्यारी। तेरे नैनो के दीवाने,हैं मोहन कृष्ण मुरारी।। सजती माथे पर बिंदिया, शत् दीप प्रज्वल्लित होते। जब-जब छनके पायलिया, मोहित... Read more
बेटियाँ
कभी मंदिर में उसको पूजा था,घर आई तो ठुकराया हैं। क्यों समाज के डर से उसको बलिवेदी पे चढ़ाया है। वरदान ईश का अंश तेरी... Read more