Skip to content

?तेरा मेरा क्या है?

मानक लाल*मनु*

मानक लाल*मनु*

कविता

October 13, 2017

?तेरा मेरा क्या है?

में और मेरा सब भी तेरा है,,
और तेरा ही हो जाये ये सोचना मेरा है,,,

जरा उजाला आया तेरे आने से,,,
वरना इस जीवन मे हरपल रहा अंधेरा है,,,

खुश्बू की सौगात कभी न पाई मैंने,,,,
पर तेरे इश्क़ के इत्र से महका तन मन मेरा है,,,,

मिलजाओ तो जीने की और आस जगे,,,
दूरी तेरी सहना अब न बस में रहा मेरा है,,,

आओ मुझसे मुझे लूट लो,,,
अब खजाना तेरा है,,,,
मानक लाल मनु?♥❣

Author
मानक लाल*मनु*
सम्प्रति••सहायक अध्यापक2003,,, शिक्षा••MA,हिंदी,राजनीति,,, जन्मतिथि 15मार्च1983 पता••9993903313 साहित्य परिसद के सदस्य के रूप में रचना पाठ,,, स्थानीय समाचार पत्रों में रचना प्रकाशित,,, सभी विधाओं में रचनाकरण, मानक लाल मनु,
Recommended Posts
शौक़-ए-विसाल  और ये  शरमाना   तेरा  मेरा..
शौक़-ए-विसाल और ये शरमाना तेरा मेरा धड़कते दिलों का ये नज़राना तेरा मेरा देता है पुख़्ता सुबूत दिल जाने का दफअतन कहीं- भी कभी- भी... Read more
झूठा निकला क़रार तेरा
झूठा निकला क़रार तेरा अब कैसा इंतज़ार तेरा रात भर मोती आते रहे ऐसा है आज इंकार तेरा मयकदे से दोस्ती कर ली अब नही... Read more
जब जब भी हमे तेरा ख्याल आया
जब जब भी हमे तेरा ख्याल आया जब जब भी हमे तेरा ख्याल आया रह रह के दिल में ये सवाल आया क्या सचमुच में... Read more
"तु मेरा भगवान मैं तुझको नमन करूँ "(गीत) तु हैं मेरी शान मैं तुझको नमन करूँ। तु ही मेरा मान मैं तुझको नमन करूँ। ख्वाबों... Read more