.
Skip to content

ग़ज़ल।जहां मे ज्ञान का पौधा सदा बोता रहा शिक्षक ।

रकमिश सुल्तानपुरी

रकमिश सुल्तानपुरी

गज़ल/गीतिका

September 5, 2017

,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,ग़ज़ल ,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,

सजता राह जीवन की स्वंय खोता रहा शिक्षक ।
जहां मे ज्ञान का पौधा सदा बोता रहा शिक्षक ।

हमारी एक ग़लती पर हमे वो डांटने लगता ।
दिखाकर राह सच झूठी सज़ा देता रहा शिक्षक ।

मिले जो कामयाबी तो वो पीठें थपथपाता है ।
हमारी हार सुनकर के दुखी होता रहा शिक्षक ।

बने हम नागरिक सच्चे करें हम देश की सेवा ।
हमेशा देश भक्ति मे हमे धोता रहा शिक्षक ।

सिखाता पाठ जीवन के मिटाता अन्ध हृदय से ।
महापुरुषों के साये को ख़ुदी ढ़ोता रहा शिक्षक ।

पिता, माता ,सखा, भाई तनय सा प्यार देता है ।
सभी रिस्तो के सागर मे लगा गोता रहा शिक्षक ।

करेंगे नाम दुनियां मे यही उम्मीद रख “रकमिश ।
चिरंगुन हम बना पंछी हमे सेता रहा शिक्षक ।

राम केश मिश्र
सुलतानपुर उत्तर प्रदेश

Author
रकमिश सुल्तानपुरी
रकमिश सुल्तानपुरी मैं भदैयां ,सुल्तानपुर ,उत्तर प्रदेश से हूँ । मैं ग़ज़ल लेखन के साथ साथ कविता , गीत ,नवगीत देशभक्ति गीत, फिल्मी गीत ,भोजपुरी गीत , दोहे हाइकू, पिरामिड ,कुण्डलिया,आदि पद्य की लगभग समस्त विधाएँ लिखता रहा हूं ।... Read more
Recommended Posts
शिक्षक
::::::::::::::::::::::::::::::शिक्षक:::::::::::::::::::::::::::::: वो शिक्षक ही होता है जो हमें बोलना सिखाता है। जो ऊँगली पकड़ कर हमारी हमें चलना सिखाता है। वो शिक्षक ही होता है... Read more
नाम है शिक्षक हमारा (गीत)
Dr.Priya Sufi गीत Sep 6, 2016
ज्ञान दे कर कल सँवारे, अनुभवों की खान है। नाम है शिक्षक हमारा, राह की पहचान है। हल चलाया ज्ञान का जब, साज सुख अपने... Read more
शिक्षक
??? शिक्षक ??? =================== शिक्षक जीवन का वह रत्न है शिक्षक, शिक्षक रत्नों में नवरत्न है। शिक्षक, शिक्षक शिक्षा का वह सार है शिक्षक, शिक्षक... Read more
शिक्षक देश के निर्माता
कहते हैं,जो राष्ट्र अपने देश के शिक्षकों का सम्मान करता है| उसका भविष्य सदैव उज्ज्वल रहता है| ज्ञान हमें शक्ति देता है| प्रेम हमें परिपूर्णता... Read more