.
Skip to content

हिंदु हिंदुस्तान जहाँ मे

कृष्णकांत गुर्जर

कृष्णकांत गुर्जर

कविता

February 18, 2017

हिंदु हिंदुस्तान   जहाँ मै,मेरा   देश महान है|
खेतीकरताभूखामरता,मौतसेलडताकिसानहै||

बेरोजगारी के कारण भी,दुखियारे इंसान है|
सीमा मरते है जिनको,कहते वीर जवान है||

देश की आजादी के लिये भी,दी पुरखों ने जान है|
हिंदु हिंदुस्तान हमारा,मेरा देश महान है||

देश पे राज चलाने वाले,नेता भी धनवान है|
भूखा पेट सोने वाला,तो मजदूर किसान है||

कालाधन रखने वाले तू,दो दिन का मेहमान है|
हिंदु हिंदुस्तान हमारा,मेरा देश महान है||

बात बात का पंथगा,लड़ता यहा जहान है.|
व्यापारी की करे गुलामी,यहाँ पर वीर किसान है

प्यारा हर इंसान यहाँ पर,नेता तो मेहमान है.
हिंदु हिंदुस्तान हमारा,मेरा देश महान है

Author
कृष्णकांत गुर्जर
संप्रति - शिक्षक संचालक G.v.n.school dungriya G.v.n.school Detpone मुकाम-धनोरा487661 तह़- गाडरवारा जिला-नरसिहपुर (म.प्र.) मो.7805060303
Recommended Posts
मेरा देश महान है
हिंदु हिंदुस्तान जहाँ मै, मेरा   देश  महान  है... खेती करता भूखा मरता, मौत से लडता किसान है...१ बेरोजगारी के कारण भी, दुखियारे  इंसान  है.... सीमा... Read more
एक विचार आया था मन में
"एक विचार आया था मन में , हमने क्या किया जीवन में, भूल गए वीरों का बलिदान , शायद हम भी थे कभी गुलाम !... Read more
गौरव
मुझे गौरव है मेरा महान देश है भिन्न भिन्न इस देश का वेश है यहां हर एक हिन्दुस्तानी की ऐश है विशव का सबसे प्यारा... Read more
मेरा देश महान
शुचि गीता या बाइबल ..या हो पाक कुरान क्या विनती क्या आरती ..क्या अरदास अजान भिन्न वेश भाषा मगर ..भाव दिलों के एक मेरे देश... Read more