कविता · Reading time: 1 minute

हिंदी व्याकरण

*** हिंदी व्याकरण ****
*******************

वर्णों से ही बनते हैं शब्द
शब्दों बिन जगत निशब्द

शब्दों से बनते है वाक्य
वाद संवाद कराते वाक्य

व्यक्ति, वस्तु और स्थान
संज्ञा का करवाते हैं ज्ञान

संज्ञा स्थान पै शब्द आते
शब्द सर्वनाम बन जाते

संज्ञा सर्वनाम गुण गाते
शब्द विशेषण कहलाते

काम का जो बोध कराए
शब्द क्रिया ज्ञान करवाएं

जो करता क्रिया गुणगान
क्रिया विशेषण का ज्ञान

शब्द समय बोध करवाए
वह शब्द काल कहलाए

शब्दों का यह सब प्रचार
हिंदी व्याकरण का प्रसार
*******************
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
खेड़ी राओ वाली (कैथल)

32 Views
Like
You may also like:
Loading...