Skip to content

हिंदी दिवस पर

RAMESH SHARMA

RAMESH SHARMA

दोहे

September 14, 2017

माह सितम्बर की हुई, है चौदह तारीख !
देंगे सारे आज फिर,हिंदी तुझको सीख! !

हिंदी मेरे देश की,….. मोहक मधुर जुबान !
इसका होना चाहिए, और अधिक उत्थान !!

किया उन्होंने आज फिर, हिंदी पर अहसान !
दिया साल के बाद फिर, हिंदी में व्याख्यान !!

भावी पीढ़ी पर अगर, दिया नहीं जो ध्यान !
हो जाएगी सत्य यह,…. हिंदी से अनजान !!

हिंदी का समझें बड़ा, खुद को खिदमतगार !
बच्चे जिनके पढ़ रहे,….. अँग्रेजी अखबार !!

अँग्रेजी में लिख रहे, हिन्दी का अनुवाद !
संसद में भरपूर है ,…. ऐसों की तादाद !!

होती हिंदुस्तान की,……हिंदी से पहचान !
इसका होना चाहिए, सबको ही अभिमान !!

हिंदी का आदर करे ,..पढें नये नित छंद !
होगी सबकी एक दिन,हिंदी प्रथम पसंद !!

हिंदी भाषा देश की,…..जिसकी नही मिसाल !
समय समय पर विश्व मे,जिसने किया कमाल ! !

फिल्मो का भी हाथ है,इसमे बडा रमेश !
हिंदी को पहचानते, इसकारण सब देश !!

फिल्मो के द्वारा गया, सहज बड़ा सन्देश !
हिंदी मे बातें करे,……. आज समूचा देश !!

अंग्रेजी मे ले रहे,…हिंदी का वो स्वाद !
भाषा हिंदी बोझ सी, दी हो जैसे लाद !!

हुई धुंधली आज पर ,उज्वल है तकदीर !
चलो सँवारें हम सभी, हिंदी की तस्वीर !!
रमेश शर्मा.

Author
RAMESH SHARMA
अपने जीवन काल में, करो काम ये नेक ! जन्मदिवस पर स्वयं के,वृक्ष लगाओ एक !! रमेश शर्मा
Recommended Posts
जो होता है आज ही होता है
???? जो होता है, आज ही होता है। यहाँ तक कि आनेवाला कल भी आज के रूप में ही सामने आता है। बेहतरी की सभी... Read more
नव जागरण उद्घोष,शंख नाद हो हिंदी !
नव जागरण उद्घोष,शंख नाद हो हिंदी ! जन-जन को जोड़ती हुई,बढ़ती जो निरंतर हर मोड़ पे नव रूप में, आबाद हो हिंदी, नव जागरण उद्घोष,शंख... Read more
हिंदी है भारत की बिंदी ( गीत) जितेंद्र कमल आनंद
Jitendra Anand गीत Apr 30, 2017
हिंदी है भारत की बिंदी, इसको लाल चमकने दें हिंदी है गरिमा भारत की, माता का सम्मान है । एकरूपता यही राष्टृ की, भावों का... Read more
वो जबान है हिंदी
(हिंदी पखवाड़े में हिंदी पर रचनायें) छंद सार (मापनी मुक्तमक) मात्रा भार- 16,12 = 28 पदांत- है हिंदी समांत- आन जन जन की है भाग्य... Read more