--हारेगा कोरोना.,

कोरोना तुम को
एक साल होता आया,
सारे संसार में आकर उथल-पुथल मचाया,
हवाई,रेल सब तुंरत रूकवाया,
जो जहां था उसको वहीं ठहराया,
स्कूल,कॉलेज, फैक्ट्री सब पर ताला ठुकवाया,
इस महामारी ने भयंकर रूप दिखाया,
किसी ने अपना खोया,
कोई डरकर कर भी सोया,
पुलिस, डॉक्टर्स ,नर्स….
अपनी परवाह छोड़,
रखवाले बने हमारे,
तन की दूरी,मुख पर लंगोटी,
संग सेनेटाइजर सबको रखवाया,
हाय,हैलो तज कर…
नमस्कार से सबका सम्मान करवाया,
भारत देश महान!!!
भारतीय संस्कृति को सबने अपनाया,
हिम्मत हमने नहीं हारी,
मुश्किल घड़ी में भी,
जितनी चादर उतने ही पैर पसारे,
आत्मनिर्भर बना मेरा भारत,
नहीं किसी के आगे हाथ फैलाए,
एक-जुट होकर एक-दूसरे का दिया साथ,
योग, सकारात्मक सोच अपना,
प्रतिरोधक क्षमता बढ़ा,कोरोना को दो मात
फिर क्या है कोरोना की औकात…..
होगा कोरोना का काम तमाम।।।

-सीमा गुप्ता (अलवर)( राजस्थान)महल चौक
पिन कोड- 301001

Voting for this competition is over.
Votes received: 346
76 Likes · 147 Comments · 3462 Views
सीमा गुप्ता (ब्लोगर) मैं एक गृहणी होने के साथ-साथ कविता और लेख लिखना पसंद करती...
You may also like: