हाइकु · Reading time: 1 minute

हाइकु

हाइकु गीत

सांवरियाँ रे!
ओ मेरे सांवरियाँ!
सांवरियाँ रे!

सवारियाँ रे!
नैना हैं कजरारे,
देखूं भरके।

जागी है रात,
मिलन की है प्यास,
आऊं मिलने।

दिल ये मेरा,
धकधक धड़के,
रात है भारी।

हवा चली है,
खुशबू भरकर,
महके सांस।

तपता तन,
बहकता ये मन,
बुलाये तुम्हे।

ये पायलियाँ,
छनछन छनके,
शोर मचाती।

उम्र सयानी,
दरिया भरा पानी,
सबको भाये।

चैन न आये
दिल गुनगुनाता
तुम्हें बुलाये।

(प्रत्येक हाइकु के बाद प्रथम हाइकु पढ़े)

Rishikant Rao Shikhare
10-07-2019

27 Views
Like
31 Posts · 1.1k Views
You may also like:
Loading...