दोहे · Reading time: 1 minute

हस्तशिल्प

हस्तशिल्प अद्भुत कला, रचनात्मक उत्पाद।
जिसमें होती है मिली,रक्त-स्वेद का खाद।। १

हस्तशिल्प है हाथ के, कौशल से तैयार।
रीति रिवाजों से जुड़ा, परंपरा से प्यार।।२

बाँस बेंत की टोकरी, सजावटी सामान।
हस्तशिल्प के रूप में, अतुलनीय पहचान।।३

हस्तशिल्प उद्योग का, बहुत बड़ा इतिहास।
इसने भारत देश को, बना दिया है खास।।४

सदियों से इस देश को, हस्तशिल्प पर गर्व।
इससे ही तो शोभता, शादी हो या पर्व।। ५

आदिकाल से हो रहा,हस्तशिल्प निर्माण।
आदिवासियों से जुड़ा,ग्रामीणों का प्राण।।६

परम्परा की है झलक,हस्तशिल्प व्यापार।
फैशन की इस दौड़ में, नव आकार प्रकार।।७

-लक्ष्मी सिंह☺❤🙏

46 Views
Like
You may also like:
Loading...