23.7k Members 50k Posts
Coming Soon: साहित्यपीडिया काव्य प्रतियोगिता

हमारा स्वच्छ भारत

??स्वच्छ भारत पर मेरी रचना??

आजाद हुए कई साल हुए
पर हमने क्या पाया है
राम राज्य की भूमि पर
कंश राज की छाया है ॥

एक युग पुरुष,एक वीर पुरुष ने
बेड़ा अब ऊठाया है,
विश्व पटल पर विजयी विश्व
तिरंगे को फहराया है,

तन हो चंचल,मन हो निर्मल,
इसलिए स्वच्छ रहना होगा,
मिल कर करेंगे जननी सेवा,
ये खुद से कहना होगा ॥

बापू को होगी श्रद्धांजली सच्ची,
जब हम मिलकर साथ चलेंगे,
सुनहले भविष्य की किरणों का,
सुनहला सा इतिहास रचेंगे ॥

?आपका प्रमोद रघुवंशी?
शुभ संध्या@21-11-2016

10 Views
Pramod Raghuwanshi
Pramod Raghuwanshi
Hoshangabad
13 Posts · 432 Views
You may also like: