गज़ल/गीतिका · Reading time: 1 minute

हमदम

मद्धम मद्धम।
ज्यादा या कम।।

दस्तक देता।
कोई हमदम।।

इतना प्यारा।
जैसे शबनम।।

तुम मेरे तो।
फिर कैसा गम।।

विजय परेशां।
हरपल हमदम।।

9424750038

69 Views
Like
You may also like:
Loading...