हद से बढ़ा

हाइकु :-

हद से बढ़ा !
वो सरहद पर !
आकर खड़ा !!

आज है भरा !
हमारे दुश्मन के !
पाप का घड़ा !!

है मिटाने का !
इस दिल में आज !
विश्वास बड़ा !!

बीज उसने !
दुश्मनी का था इस !
धरा पे गढ़ा !!

खाई कसम !
आज तुझे जहां से !
दे हम मिटा !!

– सोनिका मिश्रा

Like 1 Comment 0
Views 169

You must be logged in to post comments.

Login Create Account

Loading comments
Copy link to share
Sahityapedia Publishing