स्वीकार करो तुम

गीतिका
*
प्यार करो इजहार करो तुम
सच्चाई स्वीकार करो तुम
*
जीवन पथ पर बढ़ते जाओ
हर बाधा को पार करो तुम
*
सपने जो देखे हैं तुमने
सबके सब साकार करो तुम
*
हर प्राणी में ईश्वर जानो
स्नेह भरा व्यवहार करो तुम
*
कुदरत के सुन्दर दृश्यों का
अवलोकन हर बार करो तुम
*
*************************
-सुरेन्द्रपाल वैद्य

Like Comment 0
Views 23

You must be logged in to post comments.

Login Create Account

Loading comments
Copy link to share