.
Skip to content

सोशल मीडिया हास्य व्यंग्य

Kaushlendra Singh Lodhi

Kaushlendra Singh Lodhi

कुण्डलिया

March 27, 2017

बना फेसबुक फेकबुक, और व्हॉट्सप गप्प।
ट्विटर में टर टर्र करें, कामकाज सब ठप्प।।
कामकाज सब ठप्प, जियो सिम ने कर डाला।
नर नारी व जवान, बड़े बूढ़े व बाला।।
कौशल विडिओकॉल,बना मेक’प का लकलुक।
सब चेहरा चमकाय, आइना बना फेसबुक।।
☺☺??

Author
Kaushlendra Singh Lodhi
कौशलेन्द्र सिंह लोधी "कौशल" कवि नि. मतरी बर्मेन्द्र, तहसील-उन्चेहरा, जिला-सतना (म.प्र.) I राजस्व निरीक्षक पद पर तहसील-पलेरा, जिला-टीकमगढ़ (म.प्र.) में सेवारत I शिक्षा - बी.एस-सी.(MPG)
Recommended Posts
आस!
चाँद को चांदनी की आस धरा को नभ की आस दिन को रात की आस अंधेरे को उजाले की आस पंछी को चलने की आस... Read more
ये माना घिरी हर तरफ तीरगी है
ये माना घिरी हर तरफ तीरगी है मगर छन भी आती कहीं रोशनी है न करती लबों से वो शिकवा शिकायत मगर बात नज़रों से... Read more