गीत · Reading time: 1 minute

सुखद सुहावन सावन आया

सुखद सुहावन सावन आया !
जीव जन्तु मेढक तन पाया !!
मोर, पपीहा, कोयल बोले !
मस्त पवन चले होले होले !!
हरा भरा उपवन मह्के जब !
पंछी पेड़ों पर चहके तब !!
इंद्र धनुष कई रंग दिखाया !
सुखद सुहावन सावन आया !!
छम छम बरसे बरखा रानी !
खेतों में सागर सा पानी !!
नदियाँ नाले करते कल कल !
बैलो के संग संग चलते हल !!
खुश होकर जुगनू फिर गाया !
सुखद सुहावन सावन आया !!
पके आम जामुन फल खाते !
कीचड़ में लतपत हो जाते !!
गाय साथ हम जंगल रहते !
दुःख सुख,वारिस भी सह्ते !!
याद मेरा आज बचपन आया !
सुखद सुहावन सावन आया !!

67 Views
Like
51 Posts · 8k Views
You may also like:
Loading...