सिरतोन हमन जीतबोन

सिरतोन हमन जीतबोन
~~~~~~~~~~~~~~
कुछु करना हे तो डटके चले बर लागही,
ये दुनिया म थोरकुन हटके चले बर लागही।
जमाना म तो जम्मो चलथे साहब,
फेर इतिहास ल पलटके चले बर लागही।

बिन बुता के जांगर कइसे?
बिन मेहनत के दाम कइसे।
जब ले नी मिलही मंजिल,
फेर जिनगी म आराम कइसे।

होही हमरो सपना पूरा ,
धियान देके अपन काम कर।
मिलही एकदिन फल ह,
थोरकुन संगवारी इंतिजार कर।

धरती दाई के भुइयाँ म संगी,
चलेन हमन अकेल्ला।
सिरतोन हमन जीतबोन संगी,
खुशी मनाबोन माई पिल्ला।
~~~~~~~~~~~~~~
डिजेन्द्र कुर्रे “कोहिनूर”
पीपरभावना (छत्तीसगढ़)
मो. 8120587822

2 Likes · 1 View
परिचय नाम -- डिजेन्द्र कुर्रे "कोहिनूर" पिता -- श्री गणेश राम कुर्रे माता -- श्रीमती...
You may also like: