कविता · Reading time: 1 minute

सर्वश्रेष्ठ

*सर्वश्रेष्ठ*
######

*जैसा है नहीं रहना चाहता*
*कहे तो दाल रोटी मे मस्त*
*कुंठित और घुटन भरा*
*जीवन का कोई नही अर्थ*
*अवसर बना लो पूर्णार्थ*
*जीवन एक संग्राम*
*हिम्मत संकल्प के साथ*
*जो जूझा विजयी हुआ*
*सफलता निरंतरअभ्यास*
*आत्मिकी भी आवश्यक*
*नये आयाम भी शामिल*
*सब कुछ खत्म नही होता*
*जीवन कही ठहरता नहीं*
*खुदको समझें दूसरों को भी*
*अनर्थ मे अंतर्निहितअर्थ*
*खुशी का पीछा करना व्यर्थ*
*नही है मुख्य फल*
*उपजती है अंतर्मन से*
*उद्देश्य प्राप्त करने को*
*समर्पण का परिणाम*
*स्वयं से ईमानदारी*
*सर्वोत्तम कार्य योजना*
*ही सर्वश्रेष्ठ।*
🦚
*अश्वनी कुमार जायसवाल कानपुर 9044134297*

1 Like · 4 Comments · 21 Views
Like
You may also like:
Loading...