मुक्तक · Reading time: 1 minute

सरल सी बात

*क्या हो रहा है-

भाई भाई के बीच सम्बन्ध विच्छेद हो गया है।
सीधी सच्ची बात पर भी मतभेद हो गया है।।
बात मत करो आयने की, मायने की, पैमाने की,
जमाने की, ओज़ोन लेयर में, छेद हो गया है।।

*क्या होना चाहिये-

भाई भाई के बीच की खाई को पाटनी चाहिये।
सरस् सम्बन्धों की चासनी को चाटनी चाहिये।।
मुश्किलों में पड़ गया है आदमी तनहा अगर,
तो आदमी की मुश्किलों को मिलके बाटनी चाहिये।।

58 Views
Like
You may also like:
Loading...