" सम्मान "

सम्मान तो हमेशा से वक्त और परिस्थितियों का होता आया है ,
हमारी नादानियों ने उन्हें हमारा बताया है !
जब वक्त हमारी जिंदगी में करवट लाया है ,
तब पता चला हमें ,
हमने खुद से ही धोखा खाया है !!

– ज्योति

Like 6 Comment 4
Views 15

You must be logged in to post comments.

Login Create Account

Loading comments
Copy link to share