23.7k Members 50k Posts

* सफर जिंदगी का *

आसां नहीं सफर जिंदगी का
हर पल इम्तेहाँ होता है ।
दिल जान लगा दे जो अपनी
वही इंसान कामयाब होता है ।
सफर ये जिंदगी का
हर पल इम्तेहाँ होता है ।

कभी सुख तो कभी दुःख
हर शय से पाला पड़ता है ।
कभी हार तो कभी जीत
हर राह से गुजरना पड़ता है ।
सफर ये जिंदगी का
हर पल इम्तेहाँ होता है ।

रंग अनेकों है जीवन के
हर रंग में ढलना पड़ता है ।
बहते पानी सा है जीवन
पत्थर चिर के बहना पड़ता है ।
सफर ये जिंदगी का
हर पल इम्तेहाँ होता है ।

कुछ पल ऐसे भी आते हैं
जीने से मन भर जाता है ।
जीवन तो जीवन है “नीलम”
हर दर्द से गुजरना पड़ता है ।
सफर ये जिंदगी का
हर पल इम्तेहाँ होता है ।

3 Likes · 707 Views
Neelam Ghanghas Ji
Neelam Ghanghas Ji
चंडीगढ़ हरियाणा
101 Posts · 61.7k Views
*Writer* & *Wellness Coach* ---------------------------------------------------- मकसद है मेरा कुछ कर गुजर जाना । मंजिल मिलेगी...