Aug 28, 2016 · कुण्डलिया
Reading time: 1 minute

सच्चा सुख

काज सभी ऐसे करें,जग का हो कल्याण
रहे न कोई भी दुखी,बढ़े सभी का मान
बढ़े सभी का मान,रहें सब ही हर्षाते
जो करते शुभ कर्म,वही निज मंज़िल पाते
जीवन का है मंत्र, पार जो पुन: लगाता
दुख जो सब का हरे, वही सच्चा सुख पाता।।।
कामनी गुप्ता***

1 Comment · 34 Views
Copy link to share
kamni Gupta
55 Posts · 8.2k Views
I am kamni gupta from jammu . writing is my hobby. Sanjha sangreh.... Sahodri sopan-2... View full profile
You may also like: