· Reading time: 1 minute

“श्री अनंत चतुर्दशी”

*श्री अनंत चतुर्दशी*
🌹🌹🌹🌹🌹🌹

भाद्र मास , शुक्ल-पक्ष, और तिथि चतुर्दशी;
करो पूजा श्री अनंत की, जीवन में हो खुशी।

हर संकट से सदा, भगवान श्री अनंत निवारे;
ये ही बनते, हर दीन व दुखियों के भी सहारे।

आज जो भी डोर बांधते हैं, चौदह गांठ वाले;
भगवान ‘श्री विष्णु’ ही बनते, उसके रखवाले।

विधि विधान से पूजा करो, इस अनंत डोर की;
बांधो अनंत,खुशियां भी आएंगी बिना शोर की।

बंधे जो भी जन, इस पवित्र अनंत के बंधन में ;
रहे निरामिष और लीन रहे , विष्णु के वंदन में।

हर कष्ट दूर हो जाये उसका,तब इस जीवन में;
सब झलकाओ अब, श्रद्धा-भाव इस पूजन में।

सर्वकामना की हो पूर्ति, कभी न होता पराजय;
आओ मिल बोलें , ‘श्री अनंत भगवान की जय’।

*****************🙏*****************

…….✍️पंकज कर्ण
………….कटिहार।।
१९-९-२०२१

5 Likes · 8 Comments · 370 Views
Like
Author
"शिक्षक"... MA. (Hindi, Psychology & Education) B.Ed , LL.B (BHU),
You may also like:
Loading...