.
Skip to content

शुभ गणेशोत्सव

Sumita R Mundhra

Sumita R Mundhra

कविता

January 6, 2017

शुभ गणेशोत्सव
जय-जय-जय गणपति गणराज,
पूर्ण करो भक्तों के सब काज।
गणेशोत्सव का करने आगाज़,
उमड़ रहें हैं भक्त सब आज।।
शिव-पार्वती के हो अभिमान,
मेरी भक्ति का रखना मान ।
पूजा-अर्चन का नहीं है ज्ञान,
कर दो तुम मेरा कल्याण ।।
रिद्धि-सिद्धि संग आप पधार,
मेरे बिगड़े सब काज संवार।
मूषक पर होकर असवार ,
“सुमिता”का जीवन दो तार।।

– सौ.सुमिता राजकुमार मूंधड़ा
– Sumita R Mundhra
sumitamundhra@gmail.com
(7798955888)

Author
Sumita R Mundhra
मैं बड़ी लेखिका-कवियत्री नहीं हूँ । बचपन से ही शौक से लिखती हूँ । लंबे अंतराल के बाद हमसफ़र राज और पुत्र रिषभ के प्रेरित करने पर मेरी कलम फिर से शब्दों को पिरोने लगी है । मैं अपनी रचना... Read more
Recommended Posts
🌻🌻श्रीश्री बाबा नीम करौरी स्तुति(तोटक छ्न्द में)🌻🌻
जय लक्ष्मण दास नमामि हरे, जय लीला कृपा आगार हरे। जय जन्म सिद्ध सर्व व्याप्त, परम प्रेम जय जय अच्युत। हनुमत स्वरुप जय श्री मान,... Read more
सच्चा सुख
काज सभी ऐसे करें,जग का हो कल्याण रहे न कोई भी दुखी,बढ़े सभी का मान बढ़े सभी का मान,रहें सब ही हर्षाते जो करते शुभ... Read more
जय हो (कविता)
।।जय हो (कविता)।। भारत माता की सेवा में जिसने सब कुछ त्यागा ।। ताकि देश हमारा सोये रात रात भर जागा ।। इक ही धन... Read more
प्रातःकालीन वन्दन
जय जय जय प्रभु दीनदयाला हर क्षण हर पल तूने संभाला तू ही है सब का रखवाला जपते हम तेरे नाम की माला। ----रंजना माथुर... Read more