शिवस्तुति

🔱 जय हो हे भोलेभण्डारी 🔱
🔱जय हो हे त्रिपुरारी 🔱🔱
🔱जो भी दर में है कर जोड़े🔱
🔱उसका करते भय भवहारी🔱जय हो हे भोलेभण्डारी 🐉
🔱 जय हो हे त्रिपुरारी 🔱
तन पर भस्म का लेप लगाकर ।
जटा से मां गंगा को बहाकर 💧
करते हो तुम पावन धरा को🔱
तुम हो जगत के कल्याणी 🔱
🔱जय हो हे भोलेभण्डारी 🔱
🔱जय हो हे त्रिपुरारी 🔱
कैलास ध्यान लगाए तुम बैठे हो ।
गले मे सर्पमाल ऐठे हो 🐉🔱
तुम-सा न कोई हे नन्दीसवारी। 🐮 जय हो हे भोलेभण्डारी 🔱
🔱जय हो हे त्रिपुरारी 🔱
🌊भोले हो जितने शोले 🔥हो उतने 🔱
पल में रौद्र पल में हँसते 🔱🙏
लीला क्या है तुम ही जानो 🔱
मैं क्या जानू मायाधारी 🔱
🔱जय हो हे भोलेभण्डारी🔱
🔱जय हो त्रिपुरारी 🔱
सृष्टि के हित के कारण 🔱
विष कोई अपने कण्ठ उतारकर ।
कहलाए नीलकंठधारी 🔱
🔱जय हो हे भोलेभण्डारी 🔱
🔱जय हो हे त्रिपुरारी 🔱
आपका भक्त आनंद मैं 🔱
चरणो मे नतमस्तक है हरपल।
🔱भांग, धतूरा, बेलपत्र 🔱
और दूध से करते पांवपखारी 🌊
कृपादृष्टि रखना हे तांडव मदारी
🔱जय हो हे भोलेभण्डारी🔱
🔱जय हो हे त्रिपुरारी 🔱

🌟 स्तुतिकर्ता शिवभक्त :- Rj Anand Prajapati 🌟🌊🔱🙏🌟🌊🔱🙏🌟🔱

Like 3 Comment 4
Views 13

You must be logged in to post comments.

Login Create Account

Loading comments
Copy link to share