शिक्षा का गिरता स्तर

शिक्षा के गिरते स्तर मे किसका दोष निकाल रहे।
देखे अब शतप्रतिशत अंक लेकर जो बेकार रहे
जबतक अंको के जोड मे प्रतिस्पर्धा होगी
अंक बढाने को को लोगों मे बडी होड जो होगी।
फिर भी सदा सर्वदा प्रतिभा की न तोड रहेगी।

216 Views
विन्ध्यप्रकाश मिश्र विप्र काव्य में रुचि होने के कारण मैं कविताएँ लिखता हूँ । मै...
You may also like: