.
Skip to content

शायरी

अजीत कुमार तलवार

अजीत कुमार तलवार "करूणाकर"

शेर

March 2, 2017

अगर सच हो जाते सब के ख्वाब
तो क्या काम था सपनो का
यूं ही लोग फनाह नहीं होते
इश्क और मोहोब्बत के जालों में !!

रूसवाई भी सहते हैं
दुःख दर्द भी उठाते हैं
जन नहीं मिलता उनको
सच्चा प्यार करने वाला जमाने में
अजीत

Author
अजीत कुमार तलवार
शिक्षा : एम्.ए (राजनीति शास्त्र), दवा कंपनी में एकाउंट्स मेनेजर, पूर्वज : अमृतसर से है, और वर्तमान में मेरठ से हूँ, कविता, शायरी, गायन, चित्रकारी की रूचि है , EMAIL : talwarajit3@gmail.com, talwarajeet19620302@gmail.com. Whatsapp and Contact Number ::: 7599235906