शायरी दिल से - 2

1.

किसी को पागल तो
किसी को शायर बना दिया
जो बच गए इश्क से
उनको आशिक बना दिया।।
2.

किसी को मजनूँ तो
किसी को रांझा बना दिया
जो फना हो गए इश्क में
उनको पतंगा बना दिया।।
3.

किसी की मुस्कान तो
किसी की आंखें लूट लेती है
जो बच जाते है उनसे
उनको अदाएं लूट लेती है।।
4.

कोई दौलत से इश्क करता है
और कोई महबूबा से
असली आशिक तो वो होता है
जो इश्क करता है इश्क से।।
5.

कोई रातभर जागता है
और कोई सोता ही नहीं
ये दर्दे दिल है इसका
इलाज कुछ होता ही नहीं।।
6.

कोई खिलौनों से खेलता है
और कोई दिलों से
अपनी अपनी फितरत है
क्या कहें किसी से।।
7.

कोई दिल में छुपा होता है
और कोई सांसों में
कहां ढूंढें इन आशिकों को जो
मिलते है बस यादों में।।
❤️❤️❤️

7 Likes · 2 Comments · 63 Views
You may also like: