शहीदों का यशगान

घनाक्षरी छंद
——————–
सीमा में डटे जवान , हथेली में रखे जाने ,
हिन्द के बलिहारो का, मान होना चाहिए ।
देश की बढायी शान , शहीदों का यशगान,
वाणी में मधुर तान , सदा होना चाहिए ।
गांधी सुभाष दर्शन ,जग बने पहचान ,
आजादी का ये विधान,सच होना चाहिए ।
अभी आये फरमान , नव समता तान ,
उदित हो दिनमान , बुद्ध होना चाहिए ।
—————-+++++——————-
स्वरचित –
शेख जाफर खान

Like 10 Comment 6
Views 78

You must be logged in to post comments.

Login Create Account

Loading comments
Copy link to share