*वो हम नहीं *

राह से भटक जाएं वो हम नहीं ।
हार के बैठ जाएं वो हम नहीं ।।
डर के भाग जाती हैं मुश्किलें हमसे ।
मुश्किलों से डर जाएं वो हम नहीं ।।

मौत से ख़ौप खाएं वो हम नहीं ।
हार से घबराएं वो हम नहीं ।।
डरते हैं डराने वाले हमको ।
दुश्मनों से डर जाएं वो हम नहीं ।।

हम दोस्तों को दुश्मन बनाते नहीं ।
दुश्मनों से दोस्ती निभाते नहीं ।।
बना लेते दोस्त जिसको एक बार ।
फिर जिंदगी भर उसको भुलाते नहीं ।।

मंजिल को धोखे से पाते नहीं ।
दुश्मन को भी जहर पिलाते नहीं ।
सोने सा सुंदर दिल है हमारा ।
नफरत का जहर हम फैलाते नहीं ।

Like 3 Comment 2
Views 651

You must be logged in to post comments.

Login Create Account

Loading comments
Copy link to share