वो कौन है

1.

वो कौन है जिसने अम्बर से घड़ा उड़ेला दिया है
तन को गीला कर मन को सूखा छोड़ दिया है
क्या उसे मालूम नहीं बेघर बच्चों ने
पत्तों को ही छत कर दिया है
~ सिद्धार्थ
2.

क्षितिज पे दिन शाम में ढल रहा था
क्षितिज पे ही ढलता शाम रात में बदल रहा था
क्षितज ही था जिस पे लम्हा लम्हा दिन रात मचल रहा था…🙄

~ सिद्धार्थ

1 Like · 6 Views
मुझे लिखना और पढ़ना बेहद पसंद है ; तो क्यूँ न कुछ अलग किया जाय......
You may also like: