Apr 20, 2017 · कविता
Reading time: 1 minute

वीर सेनानी

सलाम है तुमपर शरहद के वीर सेनानी
तुम्हारी जज़बो का लोहा सब ने मानी खेल के अपनी जानो पर तुम सब देश को है संभाली सलाम है तुम पर शरहद के वीर सेनानी
कैसे करू तुम्हारा आभार प्रकट
जिसने जग को भयमुक्त रहने की आजादी दिलाई
अपने सब सुख छोर तुने देश को आतंक से बचाई है
सलाम है तुमपर शरहद के वीर सेनानी।
कवि-नितेश वर्मा
निवास स्थान-दुमका झारखंड
मो न.-8809854507

221 Views
Nitesh Verma
Nitesh Verma
1 Post · 221 Views
Author-Nitesh Verma Father name-Rajesh verma Add-Rasikpur ward no 3 subhash nagar.(P o -Dumka. Thana-Dumka nagar.... View full profile
You may also like: