Skip to content

विधा दोहे रक्षाबंधन

Sajoo Chaturvedi

Sajoo Chaturvedi

दोहे

August 7, 2017

भाई पिता समान है ,कहती भारतभूमि।
प्यार भरे रिश्ते है ,हिन्द की है कर्मभूमि।।
पोहे अनगिनत मोती ,धागे है अनमोल।
बहना न माँगे गहना , रक्षा करोगे बोल।।
कच्चा धागा न समझना ,है पवित्र ये बन्धन।
बहन राखी है बाँधे ,रहे अटूट संबन्ध।।
सज्जो चतुर्वेदी**************शाहजहाँपुर

Share this:
Author
Recommended for you