.
Skip to content

विधा-चूरनवाला

Sajoo Chaturvedi

Sajoo Chaturvedi

कविता

November 14, 2017

बाल कविता_*चूरनवाला*
देखो चूरनवाला चूरन लाया ।
संग में रंगबिरंगी गोलियाँ लाया।।
कुछ खट्टी मीठी और तीखी लाया।
फिर ऊँचे स्वर में आवाज लगाया।।
मोटा सेठ निकलकर आया।
मुछें अँइठी रुआब दिखाया।।
अमीरों की गली तू कैसे आया।
गरीबों का पेट घसीटकर लाया।।
आधीरात बैठ पत्नी ने बनाया।
सवेरे बेचने हजमें की गोली लाया।।
इतने मे सेठानी लाली चुन्नू आया।
लाला जी ने आँख दिखलाया।।
सेठानी ने गोली का राज बताया।
चूरनवाले ने ठहाका लगाया।।
सेठ तिलमिला कर अंदर भागा।
चून्नू ने चूरन खा चटकारा लगाया।।
बच्चों सेठानी ने गोलियाँ बँधवाया।
चूरनवाले ने चूरन लो आवाज लगाया।।
सज्जो चतुर्वेदी*****

Author
Recommended Posts
* बारिश का मौसम *
बारिश का मौसम आया । मौसम सुहाना लाया ।। चहकेंगे पक्षी महकेगी खुशबू । खुशियों की सौगात लाया ।। बारिश का मौसम आया । मौसम... Read more
दिल के करीब
Raj Vig कविता Sep 9, 2017
मुद्दतों के बाद फिर कोई दिल के करीब आया है नया चेहरा लेकर जज्बात वो पुराने लाया है । आंखों मे प्यार बसा कर कोई... Read more
मैं इश्क करने आया हूँ ।
Govind Kurmi शेर Dec 8, 2016
इसारा कर ऐ जिंदगी, मैं कुर्बान होने आया हूँ । नफरत भरे दिल में, वफ़ा का तोहफ़ा लाया हूँ । भुला सके तो भुला मुझे,... Read more
मुक्तक - कोई दिल जीत लाया है, कोई दिल हार लाया है..... कोई ग़म के आसुओं को, किसीसे उधार लाया है.... हमारे और तुम्हारे बीच,... Read more