वक़्त

समय से लड़ाई है अपनी,
अक्सर उससे हार जाता हूं,
फिर भी पता नहीं कैसे,
मैं उसे हर दम अपने साथ पाता हूं।

Like 2 Comment 0
Views 1

You must be logged in to post comments.

Login Create Account

Loading comments
Copy link to share