Mar 31, 2020 · शेर

" रिश्तों में जज्बात "

ये रिश्ते हैं दुकानों की मिठाई नहीं ,
जो अपने गुणों से मूल्यवान होकर बिकते हैं ।
ये रिश्ते दिल से निभाएं जाते हैं औकात से नहीं ,
रिश्ते जज़्बातों से मजबूत होते हैं हालातों से नहीं ।।

🙏 धन्यवाद 🙏

✍️ ज्योति ✍️
नई दिल्ली

1 Like · 2 Comments · 10 Views
पिता - श्री शिव शंकर साह माता - श्रीमती अनिता देवी जन्मदिन - 09-10-1998 गृहनगर...
You may also like: